Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक संपत्ति 311 [चतुर्थ खण्ड] जीविका , उद्योग और ज्ञानविज्ञान

(यह लेख माला हम पंडित रघुनंदन शर्मा जी की वैदिक सम्पत्ति नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं ।) प्रस्तुति: – देवेंद्र सिंह आर्य ( चेयरमैन ‘उगता भारत’ ) गताक से आगे … इसके आगे इस सृष्टि के तीसरे कारण प्रकृति का वर्णन इस प्रकार है- अदितियॉरिितरन्तरिक्षमदितिर्माता स पिता […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति – 310 (चतुर्थ खंड) जीविका , उद्योग और ज्ञानविज्ञान

(यह लेखमाला हम पंडित रघुनंदन शर्मा जी की वैदिक सम्पत्ति नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं ) प्रस्तुति – देवेंद्र सिंह आर्य ( चेयरमैन -‘उगता भारत ‘ ) इस सृष्टि को देखकर किसी भी विचारवान् मनुष्य के हृदय में जो सबसे पहले स्वाभाविक प्रश्न उत्पन्न होता है, उसको […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति -309* *(चतुर्थ खण्ड) जीविका, उद्योग और ज्ञानविज्ञान*

* (ये लेखमाला हम पं. रघुनंदन शर्मा जी की ‘वैदिक संपत्ति’ नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं। प्रस्तुतिः देवेन्द्र सिंह आर्य (चेयरमैन ‘उगता भारत’) गतांक से आगे… इसके आगे फिर वेद उपदेश देते हैं कि- अग्निः प्रियेषु धामसु कामो भूतस्य भव्यस्य । सम्राडेको विराजति ।। (यजु० १२।११७) अर्थात् […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति – 308 वेदमंत्रों के उपदेश

    (ये लेखमाला हम पं. रघुनंदन शर्मा जी की ‘वैदिक संपत्ति’ नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहें हैं ) प्रस्तुतिः देवेन्द्र सिंह आर्य (चेयरमैन ‘उगता भारत’) गताँक से आगे…. इस प्रकार से आवश्यकता पड़ने पर लड़नेवाला राजा अपने युद्धोपकरणों को मिट्टी के घरों में न रक्खे । इसके […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति – 307 वेदमंत्रों के उपदेश

(ये लेखमाला हम पं. रघुनंदन शर्मा जी की ‘वैदिक संपत्ति’ नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहें हैं ) प्रस्तुतिः देवेन्द्र सिंह आर्य (चेयरमैन ‘उगता भारत’ गतांक से आगे…. इसीलिए वेद में युद्धविजय की बहुत प्रवल कामना का उपदेश है। यजुर्वेद में लिखा है कि- धन्वना गा घश्वनाजि जयेम धन्वना […]

Categories
वैदिक संपत्ति

(वैदिक सम्पत्ति – 305 चतुर्थ खण्ड) जीविका, उद्योग और ज्ञानविज्ञान

(ये लेखमाला हम पं. रघुनंदन शर्मा जी की ‘वैदिक संपत्ति’ नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं। प्रस्तुतिः देवेन्द्र सिंह आर्य (चेयरमैन ‘उगता भारत’) गतांक से आगे… इन मन्त्रों में राजसभा श्रीर सभासदों का कत्र्त्तव्य वर्णन करके अब अगले मन्त्रों में वेद आज्ञा देते हैं कि राष्ट्र को चाहिये […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति-304 चतुर्थ खण्ड) जीविका, उद्योग और ज्ञानविज्ञान

(ये लेखमाला हम पं. रघुनंदन शर्मा जी की ‘वैदिक संपत्ति” नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहें हैं। प्रस्तुतिः देवेन्द्र सिंह आर्य (चेयरमैन ‘उगता भारत’) गतांक से आगे…… प्रजा के द्वारा ऐसे राजा को चुनने के लिए वेद उपदेश करते हैं कि- आ त्वाहार्षमन्तरेधि ध्रुवस्तिष्ठाविचाचलिः । विशस्त्वा सर्वा वाञ्छन्तु मा […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति – 302, वेदमंत्रों के उपदेश

(ये लेखमाला हम पं. रघुनंदन शर्मा जी की ‘वैदिक संपत्ति’ नामक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहें हैं) प्रस्तुतिः देवेन्द्र सिंह आर्य (चेयरमैन ‘उगता भारत’) गतांक से आगे…… इसके आगे संसार की समस्त जड़ शक्तियों के कल्याणकारी और शांत होने की अभिलाषा की गई है और परमात्मा से प्रार्थना की […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति – 301 वेदमंत्रों के उपदेश

(यह लेखमाला हम पंडित रघुनंदन शर्मा जी की वैदिक सम्पत्ति नमक पुस्तक के आधार पर सुधि पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं।) प्रस्तुति – देवेंद्र सिंह आर्य (अध्यक्ष ‘उगता भारत’) गतांक से आगे….. इसके आगे यज्ञ में किन किन पदार्थों की आहुतियाँ देनी चाहिये, यह बतलाते हैं- धानावन्तं करम्भिणमरूपयन्तमुक्थिनम् । इन्द्र प्रातुर्जुषस्व नः । […]

Categories
वैदिक संपत्ति

वैदिक सम्पत्ति – 300 वेदमंत्रों के उपदेश

[यह लेखमाला हम पंडित रघुनंदन शर्मा जी की वैदिक सम्पत्ति नामक पुस्तक के आधार पर सुधी पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं।] प्रस्तुति:-देवेंद्र सिंह आर्य (अध्यक्ष ‘उगता भारत’) गतांक से आगे… हवनीय हविष को सैकड़ों गुरणदायक और आयु बढ़ानेवाली औषधियों को डालकर तैयार किया है, इसलिए हे यज्ञपति इन्द्र ! आप इस संसार में […]

Exit mobile version