Categories
राजनीति

सोनिया गांधी की चिट्ठी और रायबरेली के लोग

प्रभुनाथ शुक्ल “मैं अपने बच्चों को भीख मांगते देख लूंगी, परंतु मैं राजनीति में कदम नहीं रखूंगी।” यह पीड़ा सोनिया गांधी की थी जो अपने पति एवं पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को खोने के बाद कहा था। यह एक माँ और औरत की पीड़ा थी। क्योंकि राजीव गांधी को खोने के बाद सोनिया गांधी अकेली […]

Categories
राजनीति

दलित मुस्लिम एकता पर डॉ आंबेडकर के विचार

#डॉविवेकआर्य आजकल एक नया प्रचलन चला है। दलित अपने आपको मुसलमानों से नत्थी कर यह दिखाने का प्रयास कर रहे हैं कि वे हिन्दुओं से अधिक मुसलमानों के निकट हैं। जमीनी हक़ीक़त एवं इतिहासिक तथ्यों को सरेआम ठेंगा दिखाना इसी को कहते हैं। भारतवर्ष का इतिहास उठा कर देख लीजिये बुद्ध विहारों को तहस-नहस करने […]

Categories
राजनीति

गठबंधनों के ठगबंधनों से मुक्त मायावती

ललित गर्ग- बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने आगामी लोकसभा चुनावों में अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा करके न केवल विपक्षी इंडिया गठबंधन को चौंकाया है बल्कि नये राजनीतिक समीकरण खड़े कर दिये हैं। इंडिया गठबंधन के अन्य दलों को इस घोषणा से कोई विशेष फर्क नहीं पड़ेगा, लेकिन कांग्रेस, समाजवादी पार्टी एवं भाजपा का […]

Categories
राजनीति

राहुल गांधी की नई यात्रा से नई उम्मीद ?

ललित गर्ग- कांग्रेस के नेता एवं सांसद राहुल गांधी अपने एवं कांग्रेस के राजनीतिक धरातल को मजबूती देने के लिये एक बार फिर यात्रा का सहारा ले रहे हैं। 4000 किलोमीटर की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के बाद अब वे 6700 किलोमीटर की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ पर निकल चुके हैं। न्याय यात्रा के दौरान राहुल […]

Categories
राजनीति

आचार्य कौटिल्य (चाणक्य) ,की अंतर्देशीय गुप्तचर व्यवस्था

|| आचार्य कौटिल्य ने राष्ट्र की अंदरूनी व्यवस्था के लिए आंतरिक गुप्तचर व्यवस्था को बहुत जरूरी बताया है| आचार्य कौटिल्य की मान्यता यह है कि किसी राष्ट्र को शत्रु देश के साथ-साथ उस देश की आंतरिक नागरिक वर्ग से भी खतरा होता है…| ऐसे नागरिकों को उन्होंने राष्ट्र कंटक से उच्चारित किया है.. जो राष्ट्र […]

Categories
राजनीति

चमचागिरी और चापलूसी के परंपरागत रोग से जकड़ी कांग्रेस

– ललित गर्ग- कांग्रेस में शीर्ष नेतृत्व के प्रति चापलूसी की पुरानी परंपरा रही है, इस परंपरा को कांग्रेसी नेता पार्टी की संस्कृति की तरह से अपनाते रहे हैं। ऐसे अनेक नेता हुए हैं, जिन्होनें उस परंपरा को परवान चढ़ाने की मिसाल कायम करके सुर्खियां बटोरीं हैं, लेकिन इससे सबसे सशक्त एवं पुरानी राजनीतिक पार्टी […]

Categories
राजनीति

एक समाचार👉 लक्ष्मण सिंह जी राहुल को बड़ा नेता नहीं मानते??

राहुल गांधी बड़ा नेता है भी नहीं? उनको सोनिया गांधी के पास जो धन संपत्ति है इसकी आड़ में उन्हें बड़ा नेता बनाया जा रहा है?? जबकि दोनों भाई-बहन कांग्रेस के पुराने नेताओं से 50 साल उम्र में छोटे हैं फिर भी वह हर मीटिंग में बीच में बैठते हैं ??? यहां तक की वर्तमान […]

Categories
राजनीति

क्या सचमुच संसद पर हमला करने वाले क्रांतिकारी हैं?

राकेश अचल – विभूति फीचर्स देश की संसद में 94 साल बाद वही सब कुछ हुआ जो संसद को जगाने के लिए 14 दिसंबर 2023 को किया गया। देश की संसद में दो युवकों ने दर्शक दीर्घा से छलांग लगाईं,पीला धुंआ किया और नारे लगाए। संसद में हंगामा करने वाले लड़के कोई क्रांतिकारी नहीं हैं […]

Categories
राजनीति

मुख्यमंत्रियों के रूप में नए तीन चेहरे लाकर भाजपा ने दी राजनीति को नई दिशा

ललित गर्ग – भारतीय जनता पार्टी ने छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश व राजस्थान में ऐतिहासिक जीत के बाद जिस प्रकार मुख्यमन्त्री पद पर चौंकाने वाले नामों के फैसले लेकर सबको चकित किया हैं, उनसे स्पष्ट है कि यह पार्टी राजनीति की नयी परिभाषा गढ़ने के साथ जमीनी कार्यकर्ताओं को भविष्य के नेता बनाने के लिये तत्पर […]

Categories
राजनीति

विधानसभा के हालिया चुनावों ने दे दिया है कांग्रेस के लिए साफ संकेत

डा० कुलदीप चन्द अग्निहोत्री मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़ , राजस्थान , तेलांगना और मिज़ोरम समेत पाँचों राज्यों की विधान सभाओं के लिए ुए चुनावों के नतीजे दिसम्बर के प्रथम सप्ताह में आ गए थे । ये चुनाव 2023 में होने वाले चुनावों के अंतिम चुनाव कहे जा सकते हैं । इसके कुछ महीने बाद ही […]

Exit mobile version