Categories
आतंकवाद खेल/मनोरंजन

हेट स्पीच का नाइक कैसे बना फीफा वर्ल्ड कप में नायक, जानें विवादित इस्लामिक धर्मगुरु की कहानी

अंतरराष्ट्रीय विषय के जानकारों का मानवा है कि कतर फीफा विश्व कप का इस्तेमाल गैर मुस्लिम के धर्म परिवर्तन के लिए चलाए जा रहे मिशन दावाह के लिए कर रहा है। दावाह या दावह; यह एक अरबी शब्द है। मूल या स्थूल रूप से इसका अर्थ “आमंत्रण” है। जिसकी जुबान से हर वक्त जहर भरे […]

Categories
खेल/मनोरंजन देश विदेश

सबसे महंगा आयोजन, भ्रष्टाचार के आरोप, भारत के सैकड़ों मजदूरों की मौत, क्यों फीफा विश्व कप का सबसे विवादास्पद मेजबान बना कतर?

अभिनय आकाश विश्व कप के मेजबान के रूप में कतर का चयन लंबे समय से रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरा रहा है। फीफा के अधिकारियों द्वारा वोटिंग के बाद 2010 में चयन की घोषणा की गई थी। 20 नवंबर से फीफा विश्व कप 2022 का आगाज हो गया है। पहली बार किसी फुटबॉल […]

Categories
खेल/मनोरंजन

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: कैसे होता है कलाकारों का चयन

अभिनय आकाश  फिल्म समारोह निदेशालय के अनुसार विजेताओं का फैसला करने वाली जूरी में “सिनेमा, अन्य संबद्ध कला और मानविकी के क्षेत्र में प्रतिष्ठित व्यक्ति” शामिल होते हैं। 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा 22 जुलाई को उन फिल्मों के लिए की गई जो 2020 में रिलीज हुई थीं। कोविड -19 महामारी के कारण पुरस्कारों […]

Categories
खेल/मनोरंजन

नेता हों या अभिनेता सभी एक ही थैली के चट्टे बट्टे होते हैं

राजशेखर चौबे देश में तालिबान राज नहीं है अतः नेता में नेत्री और अभिनेता में अभिनेत्री भी शामिल है। नेता जन्मजात अभिनेता होता है। नेता और अभिनेता में एक समानता यह है कि दोनों ही अपनी नालायक औलादों को लायक समझते हैं और उसे नेता या अभिनेता ही बनाना चाहते हैं। यदि औलाद में कुछ […]

Categories
खेल/मनोरंजन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विशेष आलेख : ‘टीम इंडिया’ की ताकत से हासिल कामयाबी

नरेंद्र मोदी भारत ने टीकाकरण की शुरुआत के मात्र 9 महीनों बाद ही 21 अक्तूबर, 2021 को टीके की 100 करोड़ खुराक का लक्ष्य हासिल कर लिया है। कोविड-19 से मुकाबला करने में यह यात्रा अद्भुत रही है, विशेषकर जब हम याद करते हैं कि 2020 की शुरुआत में परिस्थितियां कैसी थीं। मानवता 100 साल […]

Categories
खेल/मनोरंजन

इंटरनेट और टीवी का नशा

वेद प्रताप वैदिक जो काम हमारे देश में नेताओं को करना चाहिए, उसका बीड़ा भारत के जैन समाज ने उठा लिया है। सूरत, अहमदाबाद और बेंगलुरु के कुछ जैन सज्जनों ने एक नया अभियान चलाया है, जिसके तहत वे लोगों से निवेदन कर रहे हैं कि वे दिन में कम से कम 3 घंटे अपने […]

Categories
खेल/मनोरंजन

पैरालम्पिक में भाविना की जीत और नारी शक्ति

योगेश कुमार गोयल टोक्यो पैरालम्पिक में रजत पदक जीतकर भाविना ने साबित कर दिखाया है कि संघर्षों ने डरकर हार मानने का नाम जिंदगी नहीं है बल्कि इन संघर्षों का दृढ़ता से मुकाबला कर दूसरों के लिए मिसाल बनना ही असली जिंदगी है। भारत की नारी शक्ति विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल करने के […]

Categories
खेल/मनोरंजन

खेलों का स्तर ऊंचा उठाने के लिए विशेष प्रयासों की आवश्यकता

  रमेश सर्राफ धमोरा खेलों में जीतने पर खुशी मनाना अच्छी बात है। इससे खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ता है व दूसरे खिलाड़ी भी अपनी खेल प्रतिभा दिखाने के लिए प्रोत्साहित होते हैं। मगर इसके साथ ही हमें हमारे खेलों का स्तर ऊंचा उठाने के लिए विशेष प्रयास करने चाहिये। जापान के टोक्यो शहर में खेले […]

Categories
खेल/मनोरंजन

देश का नाम रोशन कर दीपिका का अगला लक्ष्य ओलंपिक

अरुण नैथानी दीपिका के सधे निशानों से प्रतिष्ठा के जो दीप जले हैं, उसने देश का नाम रोशन किया है। हाल ही में पेरिस में संपन्न तीरंदाजी विश्वकप में उसने तीन सोने के पदक अपने बनाये हैं। गरीबी की तपिश में निखरी दीपिका अब दुनिया की नंबर वन धनुर्धर बन गई हैं। दुनिया में पहली […]

Categories
खेल/मनोरंजन

भारतीय कुश्ती की छवि को पहलवान सुशील कुमार की वजह से तगड़ा झटका

मनोज चतुर्वेदी हर खेल में कुछ खिलाड़ी दूसरों से हटकर होते हैं। वे खेल का माहौल बदलने का दम रखते हैं। निशानेबाज अभिनव बिंद्रा और मुक्केबाज विजेंदर ऐसे ही खिलाड़ी हैं। दोनों ने ओलिंपिक में क्रमश: गोल्ड और ब्रॉन्ज पदक जीता। पहलवान सुशील कुमार को भी इसी वर्ग के खिलाड़ियों में रखा जा सकता है। […]

Exit mobile version