Categories
पुस्तक समीक्षा

पुस्तक समीक्षा : ‘अलविदा’

अलविदा : लेखिका-करुणा श्री, प्रकाशक-दीपज्योति ग्रुप ऑफ पब्लिकेशन्स, मूल्य-250/-रू. समीक्षक-सुमतिकुमार जैन, प्र. सं.-जगमग दीपज्योति (मा.) पत्रिका, महावीर मार्ग, अलवर  (राज.) 301001 कथा तथा उपन्यास सम्राट प्रेमचन्द ने एक जगह लिखा है-”उपन्यास मानव चरित्र का चित्र है, मानव चरित्र पर प्रकाश डालना और उसके रहस्यों को खोलना ही उपन्यास का मूल तत्त्व है।ÓÓ उन्होंने यह भी […]

Categories
विविधा

अल्लाह का जन्म भारत में वेद से हुआ था

हमें पूरा विश्वास है कि लेख का यह शीर्षक पढ़ते ही प्रबुद्ध पाठकों के मन में कई शंकाएं उत्पन्न हो जाएंगी , कोई इस बात को असंभव और झूठ मानेगा , कोई इस बात को केवल मजाक समझ कर हंसी में उड़ा देगा , लेकिन इस बात को साबित करने के लिए हमें कुछ ऐसे […]

Categories
मुद्दा

बाईबल की बेहूदा कहानियां…

———————————————– भारत में ब्रिटिश काल के कई ईसाई पादरियों, प्रचारक और लेखकों नें हिन्दू देवी-देवताओं और पुराणों की कथाओं का बहोत मज़ाक उडाया; उस काल का ईसाई साहित्य इस तथ्य की साक्षी है। आज उनकी यह प्रवृत्ति मंद जरूर हुई है, परंतु सर्वथा बन्द नहीं हुई है, तब उन्हें पादरी जे. टी. सण्डरलैंड (Jabez Thomas […]

Categories
आतंकवाद

यूपी के मुस्लिम मोहल्लों में क्या चल रहा है ? यूपी पर गजवा-ए-हिंद की तलवार लटक रही है

-यूपी के मुस्लिम मोहल्लों में इस वक्त आलिम, उलेमा और मौलाना जबरदस्त तरीके से एक्टिव हैं… एक-एक मुस्लिम वोटर को ये समझाया जा रहा है कि साइकिल का बटन दबाना है एक भी वोट बंटना नहीं चाहिए…. उन मुस्लिम मोहल्लों में खलबली मची हुई है जहां पर मुस्लिम लाभार्थियों को थोक की मात्रा में सरकारी […]

Categories
आज का चिंतन

आखिर नसबंदी की जिम्मेवारी भी महिलाओं पर क्यों ?

( पुरुष नसबंदी की कम लागत और सुरक्षित प्रक्रिया के बावजूद, भारत की एक तिहाई से अधिक यौन सक्रिय आबादी में महिला नसबंदी को क्यों अपनाया जा रहा है ? पुरुष नसबंदी का विकल्प नगण्य-सा है। हमारे राष्ट्रीय परिवार और स्वास्थ्य सर्वेक्षण में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि वर्तमान में 15-49 वर्ष […]

Categories
देश विदेश

हिंदू विद्वेष के बादलों के छंटने का समय आ गया है

हितेश शंकर टोरंटो में नूर कल्चरल सेंटर के आडिटोरियम में हिंदूफोबिया से ग्रस्त एक समूह ने हिंदू विरोधी कार्यक्रम किया जिसमें टोरंटो विश्वविद्यालय, क्वींस विश्वविद्यालय एवं यॉर्क विश्वविदयालय सह-प्रायोजक थे। भारत से ज्यादा सहिष्णु कोई देश नहीं है। इस राष्ट्र में शरणार्थी आए और यहीं की संस्कृति को आत्मसात कर लिया। हिंदू की बात विश्व […]

Categories
राजनीति

बड़े संकट पर होती सतही राजनीति

दीपिका अरोड़ा पंजाब में विधानसभा चुनावी प्रचार चरम पर पहुंच चुका है। एक ओर लुभावने प्रस्तावों द्वारा मतदाताओं को भरमाने का प्रयास जारी है तो दूसरी तरफ बड़ी-बड़ी घोषणाओं के माध्यम से अपने मॉडल को सर्वोत्तम घोषित करते हुए सभी दल, अधिकाधिक वोट बैंक भुनाने की होड़ में एक-दूसरे को पछाड़ने की फिराक में हैं। […]

Categories
आतंकवाद

आजादी का मखौल चौधरी चरणसिंह को खालिस्तानी चिट्ठियां

खालिस्तान जिंदाबाद , दल खालसा और शिरोमणि अकाली दल जिंदाबाद ( हमारे साथ जो अड़़े सो चढ़े , सिख होमलैंड जिंदाबाद ) जहां सिखों का खून बहे , वहां केसरी निशान बहे , हमारा धर्म करो या मरो। जो हमारी मांगों का विरोध करेगा उसका काम तमाम कर देंगे। ओ चरणसिंह , तुझे हम पहले […]

Categories
आतंकवाद भयानक राजनीतिक षडयंत्र

बौद्धिकता की आड़ में हिंदुत्व का होता शिकार

हितेश शंकर हिंदुत्व को कठघरे में खड़ा करना, उसमें अपराधबोध पैदा करना और फिर उस अपराधबोध की आड़ में तुष्टीकरण के खेल को खुलेआम चलाना-यह पैंतरा अपनाने वाले हिंदुत्व के पीछे पड़े हुए हैं   अभीथोड़े दिन पहले राहुल गांधी हिंदू और हिंदुत्व के बीच अंतर बता रहे थे और अब तक कांग्रेस सोशल मीडिया […]

Categories
महत्वपूर्ण लेख

अल्लाह का वास्तविक नाम माकिर है

परम्परा के अनुसार हरेक व्यक्ति का केवल एकही व्यक्तिगत नाम ( personal name )होता है. जिस के माध्यम से उसे पुकारा या पहिचाना जाता है .लेकिन वह व्यक्ति अपने नाम का जितना प्रयोग करता है , उससे अधिक लोग उसके नाम का प्रयोग या दुरुपयोग करते हैं .और यह बात अल्लाह के बारे में सही […]

Exit mobile version