Categories
पर्व – त्यौहार

होली सहित अन्य पर्वों पर सतर्कता बरतने के दिशा निर्देश

  ‘उगता भारत’ ब्यूरो चीफ लखनऊ। होली सहित अन्य पर्वों व त्योहारों, पंचायत चुनाव तथा देश के विभिन्न राज्यों में कोविड संक्रमण के बढ़ने की स्थिति के दृष्टिगत प्रदेश में विशेष सतर्कता और सावधानी बरतने के सम्बन्ध में विस्तृत दिशा-निर्देश निर्गत किये गये हैं। उक्त जानकारी देते हुये मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने बताया […]

Categories
पर्व – त्यौहार

होली गेहूं की फसल के आगमन की खुशियां मनाने का त्यौहार है

ओ३म् ========= होली का पर्व प्रत्येक वर्ष चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की प्रथम तिथि को मनाया जाता है। एक दिन पूर्व फाल्गुल मास की पूर्णिमा पर होलिका दहन की परम्परा भी लम्बे समय से समाज में चली आ रही है। होली प्राचीन काल में ऋषियों व विद्वानों द्वारा किये जाने वाले महायज्ञ का एक […]

Categories
उगता भारत न्यूज़ पर्व – त्यौहार

बागपत के खट्टा गांव में मनाया गया ऋषि दयानन्द का बोधोत्सव

बागपत। (नीरज गुप्ता) महर्षि दयानंद के “वेदों की ओर लौटो” मिशन को आगे बढ़ाने के लिए आज की युवा पीढ़ी भी आगे आ रही है। इसी मिशन से जुड़े युवा बागपत के खट्टा गांव में बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे हैं। इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए शिवरात्रि के पर्व को खट्टा गांव में […]

Categories
पर्व – त्यौहार

बलिदान का प्रतीक भी है वसंत पंचमी

राकेश सैन वसंत पंचमी का दिन हमें पृथ्वीराज चौहान की भी याद दिलाता है। उन्होंने विदेशी हमलावर मोहम्मद गौरी को 16 बार पराजित किया और उदारता दिखाते हुए हर बार जीवित छोड़ दिया, पर जब सत्रहवीं बार वे पराजित हुए, तो मोहम्मद गौरी ने उन्हें नहीं छोड़ा। ऋतुराज बसंत, नाम लेते ही रोम-रोम पुलकित हो […]

Categories
पर्व – त्यौहार

बसन्त की मनभावन अनुभूतियां

बसंत की बकधुन: वसंत की भटकन वसंत पंचमी, माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पाँचवी तिथि। भारत की छ: ऋतुओं वसन्त, ग्रीष्म, वर्षा, शरद, शिशिर और हेमंत में वसंत ऋतु सिरमौर मानी गई है। वसंत माने पुराने पत्तों का अंत। यह नवोन्मेष की ऋतु है। ऋतुचक्र और पंचांग के फेर से अंतर पड़ता है लेकिन […]

Categories
पर्व – त्यौहार

वीर हकीकत राय का बलिदान दिवस बसंत पंचमी पर विशेष

एक दिन हकीकत राय का अपने मुसलमान सहपाठियों के साथ झगड़ा हो गया । उन के मुस्लिम सहपाठियों ने माता दुर्गा के प्रति अप् शब्द कहे, जिसका हकीकत राय ने विरोध करते हुए कहा, ”क्या यह आप को अच्छा लगेगा यदि यही शब्द मैं आपकी बीबी फातिमा (मोहम्द की पुत्री) के सम्बन्ध में कहुँ ? […]

Categories
कविता पर्व – त्यौहार

वसन्त वसत है मन में मेरे….

वसन्त वसत है मन में मेरे बनके प्यारा राजा। वर्षा ऋतुओं की रानी है करती मन को ताजा।। राजा अपनी मुस्कुराहट से सबका मन हर लेता। रानी का द्रवित हृदय भी सबको वश में कर लेता।। दोनों की राह अलग सी है पर लक्ष्य नहीं है न्यारा। प्राणीमात्र के हितचिंतन में जीवन समर्पित सारा।। राजा […]

Categories
धर्म-अध्यात्म पर्व – त्यौहार

वसंतोत्सव को मदनोत्सव के रूप में मनाया जाता था

डॉ. प्रभात कुमार सिंघल मदनोत्सव काम कुंठाओं से मुक्त होने का प्राचीन उत्सव है, जिसमें प्रेम को शारीरिक सुख से ज्यादा मन की भावना से जोड़ा गया है। मदनोत्सव पर पत्नी अपने पति को अति सुंदर मदन यानी कामदेव का प्रतिरूप मानकर उसकी पूजा करती है। बसंत ऋतु में प्रकृति नया श्रृंगार करती है। खेतों […]

Categories
कविता पर्व – त्यौहार

कविता : नव वर्ष मंगलमय तुमको कहता

सत्य सनातन सर्वहितकारी आएगा जब चैत्र माह। नूतनता सर्वत्र दिखेगी हर्ष का होगा प्रवाह।। तब आप करेंगे अभिनंदन और मैं बोलूंगा नमन नमन। पसरेगी नूतनता कण-कण में मुस्काएंगे नयन नयन।। प्रतीक्षा करो उसकी बंधु अभी शरद यहां डोल रहा। अभी नूतनता का बोध नहीं अभी यहाँ पुरातन बोल रहा।। अभी इच्छा नहीं गले मिलन की […]

Categories
कविता पर्व – त्यौहार

कविता : ये नव वर्ष हमें स्वीकार नहीं

ये नव वर्ष हमे स्वीकार नहीं है अपना ये त्यौहार नहीं है अपनी ये तो रीत नहीं है अपना ये व्यवहार नहीं धरा ठिठुरती है सर्दी से आकाश में कोहरा गहरा है बाग़ बाज़ारों की सरहद पर सर्द हवा का पहरा है सूना है प्रकृति का आँगन कुछ रंग नहीं , उमंग नहीं हर कोई […]

Exit mobile version