Categories
हमारे क्रांतिकारी / महापुरुष

राजेंद्र नाथ लाहिड़ी की जयंती पर विशेष

मित्रो ! आज 29 जून है । आज सुप्रसिद्ध क्रांतिकारी राजेंद्र नाथ लाहिड़ी की जयंती है । आज ही के दिन 1901 में इस मां भारती के महान सपूत का जन्म बंगाल (अब बांग्लादेश) के पबना जिले में माता वसंतकुमारी और पिता क्षिति मोहन लाहिड़ी के घर हुआ था । इनके पिताजी व बड़े भाई […]

Categories
मनु और भारत की जातिवादी व्यवस्था

मनु के शूद्र संबंधी विचार

अध्याय 4 मनु की दृष्टि में वास्तव में शूद्र वह है जो अपने आप को उन्नत करने के लिए , अपना आत्मिक विकास करने के लिए सक्रिय और सचेष्ट नहीं कर पाता और शास्त्रगत धर्म का पालन न कर अपने आप को सांसारिक विषय वासनाओं की आंधी में फंसाकर सर्वथा वेद विरुद्ध कार्यों में लगा […]

Categories
Uncategorised

इस बार राज्यसभा से पारित कराना चाहेगी सरकार कई कानून

नई दिल्ली । केंद्र की मोदी सरकार इस बार राज्यसभा में लंबित पड़े कई कानूनों को पास कराने का मन बना चुकी है । अभी तेलुगू देशम पार्टी के चार सांसद जिस प्रकार भाजपा के साथ आकर मिले हैं वैसी ही संभावनाएं आने वाले दिनों में भी बन सकती हैं ।सरकार की यह हर संभव […]

Categories
कहानी

नदी और एक टीले की कहानी

आप तनिक कल्पना करें । एक नदी है । उस नदी के एक छोर पर एक विशाल टीला स्थित है । नदी बरसात की ऋतु में बार बार उस टीले को काटने व मिटाने का प्रयास करती है । उसे एक चुनौती देती है, और उसकी थोड़ी बहुत मिट्टी हर बार वर्षा ऋतु में अपने […]

Categories
Uncategorised

श्री राकेश कुमार आर्य द्वारा प्रकाशित पुस्तकों की सूची

1 . भारतीय क्षात्र धर्म और अहिंसा2 – भारतीय संस्कृति में साम्यवाद के मूल तत्व3 – इस्लाम संदेहों के घेरे में4 – भारतीय मुसलमानों के हिंदू पूर्वज मुसलमान कैसे बने ?5 – मूर्ख बनाओ – मौज उड़ाओ , भाग – 16 – मूर्ख बनाओ – मौज उड़ाओ , भाग – 27 – मूर्ख बनाओ – […]

Categories
इतिहास के पन्नों से

महाराजा रणजीत सिंह की पुण्यतिथि पर

आज महाराजा रणजीत सिंह की पुण्यतिथि है । शेरे – पंजाब के नाम से विख्यात सिख सम्राज्‍य के संस्‍थापक, पंजाब के महाराज और जमन शाह को नानी याद दिलाने वाले महाराजा रणजीत सिंह का भारतीय इतिहास में गौरवपूर्ण स्थान है । उनका जन्म 13 नवंबर 1780 को हुआ था। जब वह 12 साल के थे, […]

Categories
मनु और भारत की जातिवादी व्यवस्था

मनुस्मृति पर जातिवादी होने के आरोप की समीक्षा 

अध्याय 3  महर्षि मनु ने मनुष्य के मूल स्वभाव का अध्ययन कर उसके आधार पर अपनी मनुस्मृति में वर्ण व्यवस्था का प्रतिपादन किया । यद्यपि मनु से पूर्व वेदों में वर्ण व्यवस्था का उल्लेख है । मनु ने वेदों का अध्ययन कर उनकी वर्ण व्यवस्था का निष्कर्ष सार रूप में निकालकर जो कुछ हमारे समक्ष […]

Categories
मनु और भारत की जातिवादी व्यवस्था

मनुस्मृति बनाम ब्राह्मणवादी व्यवस्था

अध्याय 2 डॉक्टर सुरेंद्र कुमार अपनी पुस्तक मनु का विरोध क्यों के पृष्ठ 5 पर लिखते हैं कि मनु की प्रतिष्ठा गरिमा और महिमा का प्रभाव एवं प्रसार विदेशों में भी भारत से कम नहीं रहा है। ब्रिटेन ,अमेरिका ,जर्मन से प्रकाशित एनसाइक्लोपीडिया में मनु को मानव जाति का आदि पुरुष, आदि धर्मशास्त्रकार, आदि विधि […]

Categories
स्वर्णिम इतिहास

14 जून की एक विशेष घटना

14 जून 1033 की घटना है । जब भारत पर महमूद गजनवी के भांजे सालार मसूद ने 11 लाख की सेना लेकर भयंकर आक्रमण किया था । स्पष्ट है कि 11 लाख की सेना सेना नहीं होती , अपितु एक ऐसा भयंकर तूफान होता है जिसके सामने किसी का भी रुकना असंभव होता है , […]

Categories
महत्वपूर्ण लेख

जब की गई थी देश में आपातकाल की घोषणा

आज 25 जून है । आज ही के दिन 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने देश में पहली बार आपातकाल की घोषणा की थी ।आपातकाल लगाने का एकमात्र कारण यह था कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय के जज जगमोहन सिन्हा ने राज नारायण की एक चुनाव याचिका को स्वीकार करते हुए 1971 में इंदिरा […]

Exit mobile version