Categories
राजनीति

विकास की राह में रोड़ा है यूपीए:भाजपा

भाजपा मुख्यमंत्री सम्मेलन में पार्टी के अध्यक्ष नितिन गडकरी ने यूपीए सरकार पर जमकर प्रहार किये। उन्होंने कहा कि केन्द्र की संप्रग सरकार में नेतृत्व के अभाव और उसके कुशासन का परिणाम देश भुगत रहा है, इससे राज्यों के विकास की गति भी प्रभावित हो रही है। इस सरकार में निर्णय लेने की क्षमता नही […]

Categories
राजनीति

भ्रष्टाचार मिटाना हो तो

  राजनीति कितनी गंदी है, नेता कितने गंदे हैं।तन के उजले मन के काले, काले इनके धंधे हैं।।इक दूजे पर सारे नेता, उंगली खूब उठाते हैं।खुद को समझें धुला दूध का, और को भ्रष्ट बताते हैं।।बुढिय़ा गुडिय़ा सांप नेवला, सब कुछ भाषण में बकते।कुत्ता कुतिया हाथी गदहा, कहने से भी ना थकते।।गंदी बोली भाषा ही […]

Categories
राजनीति

क्या सचमुच असफल रहा अन्ना आन्दोलन

डॉ. राजेश कपूर अन्ना आन्दोलन की सबसे बड़ी विजय जनमत को जगाने की है। 96त्न जनमत का समर्थन एक अभूतपूर्व सफलता है जिसे नकारने के षड्यंत्र मीडिया पूरी ताकत से कर रहा है। देश की सबसे बड़ी त्रासदी है कि जनता सोई हुई है और सबसे बड़ी सफलता है इस सोये जनमत को जगाना। इसमें […]

Categories
राजनीति

मीडिया में गिरा अन्ना का बाजार भाव

अप्रैल 2011, अगस्त 2011 और अब जुलाई-अगस्त 2012। अन्ना के आंदोलन के करीब 16 महीने के उतार चढ़ाव में टेलीवीजन मीडिया ने अन्ना के आंदोलन का बाजार भाव बढ़ाया भी और गिरा भी दिया। अगस्त 2011 में जहां अन्ना की अगस्त क्रांति को मीडिया ने अपने प्राइम टाइम का 90 फीसदी कवरेज दिया था वहीं […]

Categories
राजनीति

लोकतंत्र के राज में

  बातें करते किसी और की, और किसी से नाता है।नेताओं को हाथ जोडऩा, भाषण करना आता है। तोड़-फोड में सिद्घहस्त है, कानूनों को तोड़ रहे हैं।दलबदलू हैं अपने नेता, जब चाहें दल छोड़ रहे हैं।कुरसी इनकी मात-पिता है, कुरसी के गुण गाते हैं।मतलब पड़े तो अपने नेता, गधे को बाप बनाते हैं। दंगा करवाने […]

Categories
राजनीति

लालकृष्ण आडवाणी का ब्लॉग बम

भारतीय जनता पार्टी के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी ने अपने ब्लॉग के जरिए जो भावी राजनीतिक तस्वीर पेश की है उस पर बवाल मचना तय था। आडवाणी का मानना है कि मौजूदा राजनीतिक अस्थिरता के दौर को देखते हुए 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को 100 सीटें भी नहीं मिलेंगी। यहां तक कि उनकी […]

Categories
राजनीति

धर्मनिरपेक्षता के नाम पर साम्प्रदायिकता

उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार ने पूर्ववर्ती मायावती सरकार द्वारा मान्यवर कांशीराम जी उर्दू अरबी फारसी विश्व विद्यालय का नाम बदलकर ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती के नाम पर कर दिया गया है। स्वाभाविक रूप से कुमारी मायावती को यह बात बुरी लगनी ही थी इसलिए उन्होंने अखिलेश सरकार के इस निर्णय की तीखी आलोचना की है […]

Categories
राजनीति

वैदिक काल गाथा

आदि काल से राष्ट्र हमारा आर्यावर्त कहाता है।भारतवर्ष नाम से अब भी जग में जाना जाता है। सुख समृद्घि सदा रहती थी खुशहाली चहुं दिशा रहींगौ पालन घर घर होता था दूध की नदियां यहां बहींकैसा था दुर्भाग्य देश का द्वापर काल बुरा आया।देवव्रत शांतनु का बेटा भीष्म प्रतिज्ञा कर आया। मैं राज्य की चाह […]

Categories
राजनीति

मुख्यमंत्री अधिवक्ताओं को दिये आश्वासन पूर्ण करें: सिंह

अधिवक्ताओं के हितों के लिए सदा संघर्षशील रहने वाले और इस क्षेत्र में एक जुझारू और कर्मठ नेता के रूप में अपनी छाप और स्थान बनाने में कामयाब रहे बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान सदस्य हरिशंकर सिंह एडवोकेट का कहना है कि माननीय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अधिवक्ताओं को अपनी पार्टी […]

Categories
राजनीति

राजनीति का खेल

राजनीति का खेल घिनौना, लाशों पर भी सिकें रोटियां।कोई मीत नही है इसमें, चूसें खून, खाएं बोटियां।कुरसी के स्वारथी लड़ा, देते हैं भाई-भाई को।बाप किसी दल में है बेटा, गीत किसी दल के गाता।राजनीति के कारण, रिश्तों, में भी जहर घुला जाता।जहर उगलना, आग लगाना, राजनीति का धंधा है।कुरसी के लालच में नेता, अंधे हैं, […]

Exit mobile version