पश्चिमी प्रदेश का नाम ‘क्रांति प्रदेश’ हो:- चक्रपाणि

मुज़फ्फ़रनगर। अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि जी महाराज ने कहा हैं कि उत्तर प्रदेश के विभाजन सम्बन्धी मायावती सरकार के प्रस्ताव का हिन्दू महासभा सशर्त समर्थन करती हैं। परन्तु इसके लिए आवश्यक हैं कि प्रदेश सरकार नये प्रदेश के गठन के बारे में पहले ही सोच समझकर निर्णय ले, प्रशासनिक दृष्टि से नई राजधानियाँ नये प्रांतो के मध्य में होनी चाहिए ताकि लोगों को कोई असुविधा ना हो । साथ ही हिन्दू महासभा चाहेगी कि पश्चिमी प्रदेश का नाम क्रांति प्रदेश रखा जाये, ताकि 1857 की क्रांति की यादों को सही रूप से सम्मानित किया जा सके । इसी प्रकार पूर्वाचल का नाम संगम प्रांत गंगा यमुना के पवित्र संगम के दृष्टिकोण से रखा जाये । राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की बदतर स्थिति, श्री राम मंदिर निर्माण, समान नागरिक सहित लागू कराने, भय, भूख, भ्रष्टाचार आदि को हिन्दू महासभा अपना चुनावी मुद्दा बनायेगी । स्वामी जी महाराज ने कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में सभी राजनीतिक दलो की पोल खुल चुकी है, यह सभी चोर – चोर मौसेरे भाई हैं। सभी ने प्रदेश को लूटा है और इनकी लूट की वजह से जनता में घोर निराशा हैं ।

इस अवसर पर प्रांतीय अध्यक्ष ब्रह्मानन्द गुप्ता ने कहा कि पार्टी किसी ऐसे व्यक्ति को अपना चुनाव प्रत्याशी नहीं बनायेगी जो पार्टी के प्रति समर्पित नहीं हो और जिसके चरित्र में दोगलापन या दोहरापन रहा है।

श्री गुप्ता ने कहा कि डमी कैंडिडैट बनकर पार्टी को बदनाम करने वाले लोग चुनावी मौसम मे सक्रिय होते हैं और पार्टी को बदनाम करके बैठ जाते हैं । ऐसा हर पार्टी के साथ होता हैं । जिस पर उनकी पार्टी गहरी नजर रखकर काम करेगी । उन्होने कहा कि हिन्दू महासभा अपने सिद्धांतों के साथ कोई समझौता नहीं करेगी ।

इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री महंत नारायण गिरि जी महाराज ने कहा कि आज हिन्दू को जागकर हिन्दू राष्ट्र के निर्माण के लिए सक्रिय होना होगा । देश के बहुसंख्यक के साथ अपने ही देश में अन्याय हो यह अनुचित हैं । देश के सामने आतंकवाद आज एक ज्वलंत समस्या हैं जिससे निपटने में केंद्र और प्रदेश सरकार की तुष्टिकरण की नीति निन्दनीय हैं । पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश आर्य ने इस अवसर पर बताया की पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों के लिए अपना चुनावी एजेण्डा अगले माह के मध्य में जारी करेगी । इससे पूर्व सभी जिलाध्यक्षों को अपने – अपने क्षेत्र से सक्षम प्रत्याशियों के नाम भेजने के लिए कह दिया गया हैं । पार्टी कम से कम सौ विधान सभा क्षेत्रों में अपने प्रत्याशी उतारेगी और समान विचार धारा के दलो से चुनावी ताल मेल करेगी । उन्होने कहा कि साफ सुथरी छवि के लोगों को पार्टी की ओर से प्रत्याशी बनाने पर ही वरीयता दी जायेगी। लेकिन हर स्थिति में पारदर्शिता बनाये रखना आवश्यक होगा । पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि प्रांत में विकास की स्थिति ठीक है, लेकिन उसकी दिशा खराब हैं । प्रदेश की स्थिति ठीक होने से हमारा अभिप्राय प्रदेश के आर्थिक संसाधनों से हैं, परन्तु उन संसाधनों का दोहन राजनीतिक दलों ने अपने – अपने ढंग से किया हैं और उसका विनियोजन सही प्रकार से नहीं किया गया है।

इस अवसर पर पार्टी के पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी योगेंद्र वर्मा, पार्टी के प्रांतीय महामंत्री नीरपाल भाटी, प्रांतीय उपाध्यक्ष श्री निवास ऍडवोकेट, प्रांतीय प्रवक्ता राजकुमार आर्य, संगठन मंत्री ओमवीर सिंह आर्य वरिष्ठ कार्यकारणी सदस्य संतोष सिन्हा, फैज़ाबाद मण्डल प्रभारी अजय सिन्हा, सहित कई वक्ताओं ने अपने विचार रखे । कार्यक्रम का सफल संचालन योंगेंद्र वर्मा द्वारा किया गया, उनके सफल संचालन एवम आयोजन के लिए प्रांतीय अध्यक्ष श्री गुप्ता ने उन्हें धन्यवाद दिया । इस मौके पर उपस्थित लोगों में प्रमुख नाम थे मनीष शर्मा, अर्पण शर्मा, नवनीत त्यागी, आचार्य सुभाष, मनोज सिंह इत्यादि । कार्यकर्म की अध्यक्षता वरिष्ठ समाज सेवी ओमदत्त शर्मा द्वारा के गई।  कार्यकर्म मे नारी शक्ति की प्रतीक हिन्दू महासभा की महामंत्री डॉ॰ इंदिरा तिवारी ने कहा कि इस समय हिन्दू महासभा के लिए बहुत ही माकूल समय है । इसलिए भाषणों में समय खोने के बजाय कुछ करने का प्रयास करना चाहिए। उन्होनें कहाकि हमे नारी जागरण के लिए तथा नारी उत्थान के लिए विशेष कार्य करने और नारी को उसका समुचित स्थान दिलाना होगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *