ताज़ा पोस्ट

इतिहास के पन्नों से

संपादकीय

धर्म-अध्यात्म

मूर्तिपूजा/शिवलिंगपूजा/तीर्थ पूजा आदि का इतिहास-

ऋषि दयानंद सत्यार्थ प्रकाश में लिखते हैं कि यह मूर्त्तिपूजा अढ़ाई तीन सहस्र वर्ष के…

विश्व का सबसे न्याय पूर्ण समाज है हिंदू समाज

प्रो. रामेश्वर मिश्र पंकज इसमें मुख्य बात यह है कि धर्मशास्त्रों में जो व्यवस्थायें हैं,…

*”धर्म क्या है, और अधर्म क्या है?”

*”धर्म क्या है, और अधर्म क्या है?” यह बड़ा जटिल प्रश्न है। लाखों करोड़ों वर्षों…

कोई भी चोर, पापी कभी उत्पन्न न हो

उत्तम कर्म की सिद्धि के लिए ईश्वर की प्रार्थना अवश्य करनी चाहिए । ईश्वर का…

कर्म करते हुए सौ वर्ष तक जीने की इच्छा करो

योगेश्वर कृष्ण जी का कहना है कि हमें अपना मन ‘परब्रह्म’ से युक्त कर देना…