हिंदुत्व के परमवीर मुन्ना बजरंगी को जिहादियों ने मार डाला

*हिंदुत्व के परम वीर मुन्ना बजरंगी को जिहादियों ने मार डाला* *उत्तराखंड को जिहादियों से बचाने का उनका संघर्ष अनुकरणीय था* ************************* *आचार्य श्री विष्णु गुप्त* ******************************************** हिंदुत्व के परम वीर, उत्तराखण्ड को जिहादियों से बचाने के लिए लड़ने वाले मुन्ना बजरंगी की जिहादियों ने हत्या कर दी। हत्या से पूर्व उन्हें बेरहमी से प्रताड़ित किया गया था, उनकी जगह जगह शरीर की हड्डियां टूटी हुई थी। जिहादियों को हमेशा चुनौती देते थे,जिहादियों की करतूत को सामने लाने का प्रयास करते थे। ……… मुन्ना बजरंगी जी हिंदुत्व के सच्चे वीर थे, हिंदुत्व के प्रति उनकी निष्ठा प्रेरणा दाई थी। अत्यन्त गरीब होने के बावजूद जहां भी हिंदुत्व की पुकार होती थी वहां वे तुरंत पहुंच जाते थे। देहरादून में सड़क पर वे एक छोटी सी जूस की रेहड़ी लगते थे। जूस की रेहड़ी को बन्द कर वे हिंदुत्व के काम के लिए निकलते थे। …………. सनातन धर्म संस्कृति का पूरा पालन करते थे। राम नामी वस्त्र धारण करते थे। ललाट पर टीका लगाते थे। वे अन्य युवाओं के लिए प्रेरणा के स्त्रोत थे। उनकी सनातन धर्म संस्कृति के प्रति समर्पण चर्चा में रहती थीं। …………

 

मुन्ना बजरंगी जी की हत्या उत्तराखंड के हिन्दुओं के लिए एक चेतावनी हैऔर खतरे की घंटी है। उत्तराखंड के हिन्दू अभी भी जागरूक नहीं है। कुछ उत्तराखंड के राज्य आंदोलनकारी जिहादियों की मददगार बने हुए। जिहादियों को सरक्षण दे रहे हैं। उत्तराखंड के सनातन धर्म संस्कृति के हर विरासत की जगह पर जिहादियों का कब्जा हो गया है। बद्रीनाथ धाम से लेकर हर जगह जिहादियों के मजार आदि का कब्जा हो गया है। उत्तराखंड की लड़कियों को लव जिहाद में फसा कर जानवरो की तरह इस्तेमाल कर रहे हैं। ………… कमलेश तिवारी से लेकर मुन्न बजरंगी तक दर्जनों हिन्दू वीरों को जिहादियों ने बेरहमी से मार डाला । राजनीति और मीडिया खामोश बनी रही। भाजपा की सरकार सिर्फ तमाशबीन साबित हो रही है। ………… हिन्दुओं को माफ करना मुन्ना बजरंगी जी, हिन्दू कभी भी अपने धर्म और समाज की रक्षा के लिए नहीं लड सकता और न हिंदुत्व के लिए लड़ने वाले वीरों का सम्मान कर सकता है। आपके बलिदान के बाद भी जिहादियों का कुछ होने जाने वाला नहीं है, आपकी हत्या पर लीपापोती होगी, दोगले हिन्दू, दोगली राजनीति और मुस्लिम परस्त मीडिया जिहादियों को बचाने के लिए आगे आ जाएंगे, आपकी वीरता और बलिदान को भी दागदार करने का प्रयास किया जाएगा। ………… मुन्ना बजरंगी जी…. मैं आपको नमन करता हूं, श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

*आचार्य श्री विष्णु गुप्त*

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *