सनातन की प्राचीन परंपरा का ही संवाहक है कबीर पंथ : आचार्य महंत परमानंद साहिब

पटना । कबीर सिद्ध पीठ फतुहा के प्रमुख आचार्य महंत परमानंद साहिब ने कहा है कि सनातन की प्राचीन परंपराओं का ही संवाहक कबीरपंथी आंदोलन है । जिसमें वेद और वैदिक सिद्धांतों को लेकर के लोगों तक पहुंचाना हमारा उद्देश्य है ।
पूरे भारतवर्ष में 1300 आश्रमो के प्रमुख के रूप में हिंदू महासभा की बैठक में उपस्थित हुए आचार्य महंत परमानंद साहिब ने कहा कि अखिल भारत हिंदू महासभा सनातन की जिस परंपरा को लेकर राजनीति का हिंदूकरण करने का संकल्प लेकर आगे बढ़ रही है , उसमें उनका पूरा सहयोग संगठन को मिलेगा ।
उन्होंने कहा कि इस समय विश्व हिंसक घटनाओं का शिकार हो रहा है । सर्वत्र अशांति और कोलाहल का वातावरण है। जिसमें कबीर साहब का शांति का संदेश बहुत कारगर होगा । परमानंद साहिब ने कहा कि वेद मानवतावाद का संवाहक है और वैदिक मानवतावाद से ही संसार में शांति स्थापित हो सकती है । उन्होंने कहा कि जब तक मनुष्य मानवतावाद की सच्ची परिभाषा को अंगीकार नहीं करेगा तब तक विश्व में शांति स्थापित होना संभव नहीं है । इसके लिए राजनीति का मानवतावादी करण होना आवश्यक है। जिसे राजनीति का हिंदूकरण करने से ही प्राप्त किया जा सकता है ।
उन्होंने अखिल भारत हिंदू महासभा के नेता पंडित नंदकिशोर मिश्रा और संदीप कालिया का इस बात के लिए अभिनंदन किया कि वे भारत की प्राचीन परंपरा और सनातन मूल्यों के प्रति समर्पित होकर कार्य कर रहे हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *