श्रीराम मंदिर निर्माण ट्रस्ट में हिंदू महासभा को भी किया जाए सम्मिलित : संदीप कालिया

नई दिल्ली । ( सत्यजीत कुमार ) अखिल भारत हिंदू महासभा की एक वेद मीटिंग के माध्यम से पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री संदीप कालिया को इस बात के लिए अधिकृत किया गया कि वह प्रधानमंत्री श्री मोदी से पत्राचार कर श्री राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट में हिंदू महासभा के त्याग और बलिदानों के दृष्टिगत स्थान मांगने का आग्रह करें । इस संबंध में पार्टी कार्यालय से जारी की गई विज्ञप्ति में बताया गया है कि उपरोक्त प्रस्ताव के आधार पर श्री कालिया ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को पत्र लिखकर श्री राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट में हिंदू महासभा के एक प्रतिनिधि को रखने की मांग की है ।

श्री कालिया ने हमें बताया कि पत्र में हिंदू महासभा ने प्रधानमंत्री श्री मोदी के सक्षम और प्रगतिशील नेतृत्व की सराहना करते हुए उनके द्वारा राष्ट्र हित में लिए गए अभी तक के सभी क्रांतिकारी निर्णयों जहां भूरि -भूरि प्रशंसा की गई है वहीं उन्हें ऐसे मुद्दों पर निरंतर नैतिक समर्थन देने रहने देते रहने की बात भी कही गई है । पत्र में कहा गया है कि पार्टी ‘आपको यह विश्वास भी दिलाती है कि हिंदू राष्ट्र भारत के हितों के अनुकूल लिए गए आपके प्रत्येक निर्णय का अखिल भारत हिंदू महासभा भविष्य में भी समर्थन करती रहेगी।’
श्री कालिया के पत्र में आगे कहा गया है कि हमारे लिए यह अतीव प्रसन्नता का विषय है कि आपके सक्षम नेतृत्व में हम राम मंदिर निर्माण की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। आपने अपनी सूझबूझ और राजनीतिक दूरदर्शिता के साथ-साथ हिंदू हितों व राष्ट्रहित के अनुकूल जिस प्रकार राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया है उस ऐतिहासिक कार्य का अखिल भारत हिंदू महासभा हृदय से अभिनंदन करती है। यह तब और भी आवश्यक और उचित हो जाता है जब अखिल भारत हिंदू महासभा इस मंदिर के निर्माण के लिए सन 1949 से ही अथक प्रयास करती आ रही है । अखिल भारत हिंदू महासभा के द्वारा जारी किए गए इस संघर्ष को आपके पवित्र संकल्प ने पूर्ण किया , इसके लिए पार्टी आपका हृदय से आभार व्यक्त करती है।भई परमानंद जी द्वारा आरम्भ की गयी नवीन हिंदू राष्ट्रचेतना के संघर्ष को लालालाजपत राय जी , पंडित मदन मोहन मालवीय जी , महंत दिग्विजय नाथ जी ,स्वातंत्र्य वीर सावरकर जी और डाक्टर श्यामा प्रसाद मुक्हर्जी जी ने एक दिशा प्रदान की । जिसके विषय में आज सम्पूर्ण विश्व यह मानता है कि आप के दिव्य तप और योग से यह शत-प्रतिशत पूर्ण होगा।
इतिहास और न्यायालय के पन्नों में अखिल भारत हिंदू महासभा के द्वारा किया गया यह महान कार्य सदैव जीवित रहेगा। अब आपके द्वारा राष्ट्रीय अस्मिता के प्रतीक राम मंदिर के निर्माण हेतु एक ट्रस्ट का गठन किया गया है। जिस के संबंध में पार्टी आपसे विनम्र अनुरोध करती है कि इस ट्रस्ट में संगठन की ओर से देवतास्वरूप भाई परमानंद जी जैसे महान क्रांतिकारी नेता के वंशज और पार्टी के वरिष्ठ नेता भाई परमजीत जी को एक सदस्य के रूप में सम्मिलित करने का कष्ट करें। इसके अतिरिक्त जब आगामी 5 अगस्त को उक्त मंदिर का शिलान्यास कराया जाए तो उस समय पार्टी की ओर से राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबा पंडित नंदकिशोर मिश्र , वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ राकेश कुमार आर्य ,वरिष्ठ नेता भाई परमजीत जी और स्वातंत्र्य वीर सावरकर जी के सुपौत्र श्री रंजीत सावरकर जी को भी आमंत्रित कर उपस्थित होने की अनुमति प्रदान की जाए।
पार्टी को विश्वास है कि पार्टी के संघर्ष और राम मंदिर निर्माण के प्रति उसकी निष्ठा के दृष्टिगत आप अपनी उदारता का परिचय देते हुए पार्टी के इस अनुरोध को अवश्य ही स्वीकार करेंगे और यह उदारता और सच की पहचान की उम्मीद इस सम्पूर्ण भारत वर्ष में आप ही से की जा सकती है। जिसके लिए पार्टी सदैव ही आपकी आभारी होगी। और इन तब क्रांतिकारी पुण्य आत्माओं को एक भावभीनी श्रद्धांजलि होगी।’
पत्र के विषय में जानकारी देते हुए राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री कालिया ने कहा कि हमें पूर्ण विश्वास है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी उनके पत्र पर सहानुभूति पूर्वक विचार करेंगे और उचित निर्णय लेकर पार्टी को उसके त्याग और बलिदान के दृष्टिगत अवश्य ही उचित सम्मान देंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *