मासूम सवाल के पोस्टर पर भगवान श्री कृष्ण का फोटो क्यों

तमाम विरोधों के बावजूद भी बॉलीवुड अपना हिन्दू विरोधी रुक त्यागने को तैयार नहीं है। अब फिल्म ‘मासूम सवाल’ के पोस्टर को लेकर विवाद खड़ा हो गया है, जिसमें सैनिटरी पैड पर भगवान श्रीकृष्ण को दिखाया गया है। दावा किया जा रहा है कि इस फिल्म को महिलाओं को आने वाले पीरियड्स और इसकी समस्याओं पर बनाया गया है। मेंस्टुरेशन पर बनी इस फिल्म में सैनिटरी पैड पर भगवान श्रीकृष्ण को दिखाए जाने का विरोध हो रहा है।
बॉलीवुड में विराजमान हिन्दू विरोधी आखिर कितनी नीचता तक जाएंगे? बॉलीवुड के हिन्दुओं के प्रति ऐसे अशोभनीय रवैया को देख, क्या हिन्दुओं को पूर्णरूप से फिल्मों का बहिष्कार करना होगा? फिल्म निर्माता रंजना उपाध्याय और निर्देशक संतोष उपाध्याय क्या पीरियड्स हिन्दू महिलाओं को ही होते हैं, किसी अन्य को नहीं ? फिल्म निर्माता और निर्देशक को इतना मालूम होना चाहिए था कि इस दौरान हर धर्म में कुछ कामों की मनाही होती है। दूसरे, पहले इस दौरान महिलाएं रसोई तक में नहीं जाने के साथ-साथ खट्टी चीजों जैसे अचार आदि का सख्त परहेज होता था। शायद तुम्हारे माँ-बाप ने तुम्हे नहीं बताया। अगर सेनेटरी पैड पर किसी भगवान की ही फोटो देकर सुर्खियां बटोरनी थी तो अन्य धर्मों के भगवान को दिखाते, फिर देखते तमाशा, ज़िंदगी में दोबारा फिल्म बनाने की सोंचते भी नहीं। बेशर्मी की भी हद होती है। क्या तुम्हारे माँ-बाप के भी ऐसे ही संस्कार हैं, जो प्रसिद्धि पाने के लिए ऐसी नीचता तक जा सकते हैं।

सोशल मीडिया पर लोग कह रहे हैं कि बॉलीवुड अपनी दुर्गति के बावजूद हिन्दू विरोध में डूबा हुआ है। फिल्म के निर्देशक संतोष उपाध्याय और अभिनेत्री एकावली खन्ना ने विरोध पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि सैनिटरी पैड को दिखाने के पीछे वाजिब कारण हैं। डायरेक्टर ने कहा कि कभी-कभी चीजों को देखने का हमारा नजरिया गलत होता है, जिससे भ्रम पैदा होता है। उन्होंने कहा कि पूरी फिल्म मेंस्टुरेशन पर आधारित है, इसीलिए सैनिटरी पैड दिखाना अनिवार्य है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *