हिंदी कल्चरल सेंटर टोक्यो द्वारा किया गया हिंदी के विकास पर कार्यक्रम संपन्न

गाजियाबाद। ( संवाददाता ) यहां गाजियाबाद स्थित गांधी नगर आर्य समाज में हिंदी सेंटर टोक्यो  एवं ‘हिंदी की गूंज’ पत्रिका द्वारा हिंदी के विकास एवं समृद्धि पर काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया।
   कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित रहे सुरेन्द्र शर्मा, सिमरन सिंह, कल्याण सिंह , पारुल सिंह, डॉक्टर सुमन अग्रवाल, चेतन आनंद, कामना मिश्रा, श्वेतासिंह मैं अपने विचार व्यक्त किए और हिंदी के विषय में कहा कि हिंदी विश्व की सर्वाधिक समृद्ध भाषा  है। कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कार्यक्रम के संयोजक विनोद पांडे ने बताया कि इस अवसर पर अनेक गणमान्य लोग उपस्थित रहे। जिन्होंने किसी न किसी प्रकार से हिंदी की सेवा की है और हिंदी साहित्य में विशेष योगदान दिया है।
इस अवसर पर मोहन द्विवेदी, डॉ जयप्रकाश मिश्र, मनोज यादव ,दुर्गेश अवस्थी, पूनम भाटिया, सोनक यादव, डॉक्टर गीता पांडे, डॉक्टर राजीव पांडे , इंद्रजीत कुमार,  राधा पांडे, राकेश छोकर , डॉक्टर राजपाल, आकांक्षा पुरी, मनु लक्ष्मी मिश्रा, डॉ स्वर्ण लता कदम अरविंद पथिक, वीणा मित्तल,  सुमन अग्रवाल आदि उपस्थित थे।
कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ रमा शर्मा अध्यक्ष जापान कल्चर सेंटर टोक्यो रहीं। मुख्य अतिथि श्रीमती मनु लक्ष्मी मिश्र रही।
श्री राकेश छोकर ने इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हिंदी हमारी शान है । उन्होंने कहा कि हमें अपनी हिंदी भाषा को समृद्ध करने के लिए हिंदी के अधिकतम शब्दों का प्रयोग करना चाहिए उन्होंने इस बात पर चिंता व्यक्त की कि हिंदी के साथ-साथ इंग्लिश को देश की मुख्य भाषा के रूप में सम्मानित किया जा रहा है जो कि गलत है।
डॉ राकेश कुमार आर्य ने इस अवसर पर कहा कि हिंदी विश्व की सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है , उसकी उपेक्षा करना अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारने के समान है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Latest Posts