गुर्जर जाट और यादव समाज के लोगों ने किया ‘गजय’ संगठन का गठन : गाजियाबाद ‘आपका भवन’ में हुआ कार्यक्रम संपन्न

गाजियाबाद । यहां स्थित ‘आपका भवन’ में गुर्जर ,जाट और यादव समाज के लोगों ने मिलकर ‘गजय’ संगठन का निर्माण किया। कार्यक्रम के संयोजक संयोजक रहे रूपचंद नागर ने बताया कि गुर्जर ,जाट, यादव तीनों का मूल एक है। आज भी उनका हुक्का एक है। इस संबंध में अब समय की आवश्यकता है कि इन तीनों समाजों के लोगों को रोटी बेटी का संबंध बनाना चाहिए।
  कार्यक्रम में अनेकों वक्ताओं ने अपने विचार रखे सभी वक्ताओं ने इस बात पर जोर दिया कि क्षत्रिय समाज से होने के कारण यह तीनों जातियों एक हैं । कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कार्यक्रम संचालक और वरिष्ठ समाजसेवी  सत्येंद्र यादव ने बताया कि इस कार्यक्रम के अध्यक्ष चौधरी देवेंद्र भट्टा पारसौल रहे  बबली कसाना अध्यक्ष अखिल भारतीय गुर्जर महासभा गाजियाबाद, अरुण चौधरी भुल्लन  अध्यक्ष युवा जाट महासभा गाजियाबाद, देवेंद्र यादव अध्यक्ष अखिल भारतीय यादव महासभा की विशेष भूमिका रही।
    इस मौके पर सभी वक्ताओं ने इस कार्यक्रम को सराहा व सभी ने आपसी भाईचारे को बढ़ावा देने के लिए अपने विचार रखे। जिसमें पूर्व महापौर आशु वर्मा ने कहा कि यह एक नई क्रांति का आगाज हुआ है जब तीनों जातियां मिलकर इस देश में एक बड़ी ताकत के रूप में खड़ी होंगी। संयोजक रूपचंद नागर ने कहा कि शादी आज परिवार की होती है, लड़का और लड़की की नहीं। लड़का व लड़की की शादी योग्यता के आधार पर होनी चाहिए। उन्होंने गुर्जर जाट यादव सभा (गजय) का अर्थ भी बताया कि यह शब्द बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि  जहाँ रोटी बेटी का संबंध होता है ,वह संगठन बहुत मजबूत होता है। यदि आज यह तीनों जातियां मिलकर एक दिशा में काम करती हैं तो इससे हमारी ताकत बढ़ेगी ।हमारा रहन-सहन वेशभूषा आचार विचार हुक्का पानी सब एक है ,इसलिए हमें एक होना जरूरी है ।
      इस मौके पर युवा जाट समाज के अध्यक्ष अरुण चौधरी भुल्लन ने कहा कि समाज में जो लोग जोड़ने की बात करते हैं वह श्रेष्ठ होते हैं । आज का शिक्षक समाज का युवा जातिवाद का विरोध करता है। इस उद्देश्य से हमारी तीनों जातियों के रोटी बेटी के संबंध जरूर होने चाहिए । इस मौके पर बबली कसाना ने सभी आए हुए अतिथियों का स्वागत किया ।इस मौके पर सतेंद्र यादव ने कहा कि हम लोग बहुत पहले से इस प्रयास में लगे हुए थे यह बैठक महत्वपूर्ण है तीनों समाज के लोगों को मिलकर इस आगे बढ़ाना चाहिए इस मौके पर सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया जो कि निम्न प्रकार हैं :-
1-  गुर्जर जाट यादव( गजय) का रजिस्ट्रेशन कराया जाए।
2- (गजय)महासभा का अध्यक्ष श्री रूप चंद नगर को घोषित किया जाए बाकी पदाधिकारी व कार्यकारिणी के सदस्यों की भी नियुक्ति हो।
3- जल्द ही राष्ट्रीय स्तर पर बड़ा अधिवेशन बुलाया जाए जिसकी घोषणा तीनों सभाए व ग्ज्य के अध्यक्ष महोदय करेंगे ।
4- गजे महासभा का प्रधान कार्यालय गाजियाबाद में निश्चित किया जाए ।
5 -तीनों बिरादरी और से गजे महासभा अनुरोध करती है कि मृत्यु भोज दहेज का दिखावा आदि बुराइयों को दूर करने के लिए अभियान चलाया जाए।
6- ‘बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ’ – के नारे पर अमल किया जाए ।
इस मौके पर नरेंद्र चौधरी अध्यक्ष जाट महासभा, आशु वर्मा पूर्व मेयर , बबली कसाना, देवेंद्र यादव, प्रदीप चौधरी अजय पाल प्रमुख ,अमरजीत सिंह बीड़ी , अंतर्राष्ट्रीय आर्य विद्यापीठ के महासचिव डॉ राकेश कुमार आर्य, आर्य प्रतिनिधि सभा गौतम बुध नगर के प्रधान महेंद्र सिंह आर्य, सतपाल चौधरी, प्रताप चौधरी, विजेंद्र यादव, सतपाल यादव एडवोकेट , लोकेश चौधरी,  केपी यादव, वंदना चौधरी, अजय खारी, शीशपाल भाटी ,दीपक नागर ,राजकुमार भाटी, डॉक्टर बबली गुर्जर, सुधीर चौधरी, नरेंद्र चौधरी, नवीन चौधरी, रजत कसाना, जगत सिंह नगर ,गजेंद्र चौधरी ,श्यामवीर यादव ,सुंदर भाटी रूपचंद नागर , ललिता चौधरी मनोज यादव सत्य प्रकाश यादव आदि लोग उपस्थित रहे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *