10 – 12 दिसंबर को नई दिल्ली में प्रोविजनल वर्ल्ड पार्लियामेंट के आयोजन की विधिवत घोषणा

★ वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में दुनियाभर के दिग्गजों ने की शिरकत,जारी हुआ घोषणा पत्र
…………………………………………….
नई दिल्ली
……………………………………………
वर्ल्ड कॉन्स्टिट्यूशन एंड पार्लियामेंट एसोसिएशन( इण्डिया) की वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में दिसम्बर 2021 में नई दिल्ली में प्रस्तावित अस्थायी विश्व संसद का घोषणा पत्र आज जारी किया गया | इस अवसर पर दुनिया भर के बड़े संगठनों के दिग्गज पदाधिकारियों की उपस्थिति रही।
घोषणा पत्र का विमोचन करते हुए लेफ्टिनेंट जनरल अश्वनी कुमार बक्शी , लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह , रियर एडमिरल सनातन कुलश्रेष्ठ ने कहा की देश काल , पात्र की दृष्टि से अब यह अत्यंत अनुकूल समय है, कि भारत को विश्व नेतृत्व की प्रथम पंक्ति में रखा जाए | जनरल बक्शी ने विस्तार से बताया की भारत का विश्व नेतृत्व की प्रथम पंक्ति में विश्व शान्ति के लिए शामिल होना , क्यों आवश्यक है ? जनरल गुरमीत ने प्रस्तावित अस्थाई विश्व संसद को कॉस्मॉस के आदेश के रूप में बताया |


अमेरिका से वर्ल्ड कॉन्स्टिट्यूशन एंड पार्लियामेंट एसोसिएशन के ग्लोबल प्रेसीडेंट डॉ ग्लेन टी मार्टिन और डा यूजिनिया एलमंड ने बताया की 1985 में प्रोविजनल वर्ल्ड पार्लियामेंट के सेशन का नई दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में तत्कालीन राष्ट्रपति श्री ज्ञानी जेल सिंह ने उद्घघाटन किया था | अब भारत बदल चुका है |दिसम्बर के इस सेशन के बाद निश्चित ही भारत विश्व नेतृत्व का दावेदार हो जाएगा | मैनेजमेंट ट्रस्टी पी नरसिम्हा मूर्ति ने जानकारी दी की पृथ्वी सविंधान के तहत अमेरिका , फ्रांस , इंग्लेंड , लिबिया , उगांडा आदि में अस्थायी विश्व संसद के 14 सेशन आयोजित किये जा चुके है | 15वां सेशन नई दिल्ली में आयोजित किया जायेगा |
इंडिया चैप्टर के अध्यक्ष कर्नल तेजेंद्र पाल त्यागी ने कहा की सच , गर्व और ख़ुशी की बात यह है की भारत के प्रतिनिधि श्री रामाचंद्रन मुडलीयार ने वीटो पावर की उम्र दस वर्ष तय करने के बाद ही संयुक्त राष्ट्र के चार्टर पर 26 जून 1945 को हस्ताक्षर किये थे | तकनिकी दृष्टि से सुरक्षा परिषद् की वीटो पावर की मृत्यु 26 जून 1955 को हो गई थी | तब से लेकर आज तक भारत के किसी प्रतिनिधि ने आवाज क्यों नहीं उठाई ? क्या आने वाली पीढ़िया यह प्रश्न नहीं करेंगी ?
दिल्ली चेप्टर के अध्यक्ष राकेश छोकर ने बताया की प्रोविजनल वर्ल्ड पार्लियामेंट का आयोजन अर्थ कॉन्स्टिट्यूशन इंस्टीट्यूट, पीस पेंटागन यू एस ए ,राष्ट्रीय सैनिक संस्था के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया जायेगा | राजीव जोली खोसला ने मीडिया का धन्यवाद दिया | इस अवसर पर राष्ट्रिय सैनिक संस्था के कमांडर कुमरेश शर्मा , डा मनीषा दहिया , विविन आहूजा , डा सपना बंसल , डा मिलन यादव , पल्लवी सिंह , डा अश्क मलिक , दीपांजलि गवित , अभिनेता राजन कुमार , कुंवर ओंकार सिंह नरूला , दमन सोड़ी , दर्शना कुलकर्णी , ज्योतिर्गमय गोस्वामी , बीरू कालेकर , संका श्री वेंकटा , मोनिका त्यागी , नवदीप चावला , अक्षय मेहरे , पुष्प गरोठिया , चेतना सैनी, नीलम गुप्ता सहित गणमान्य लोगों ने राष्ट्रीय सैनिक संस्था और वर्ल्ड कॉन्स्टिट्यूशन एंड पार्लियामेंट एसोसिएशन द्वारा प्रस्तावित प्रोविजनल वर्ल्ड पार्लियामेंट में अपेक्षा से अधिक लगातार सहयोग करने का संकल्प लिया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *