आज का चिंतन

(29 जुलाई 2014 के लिए) समय मिलता नहीं, चुराना सीखें आम तौर पर यह जुमला मशहूर है कि समय नहीं मिलता। किसी काम वाले से पूछें या महान से महान निकम्मे से, सारे के सारे एक वाक्य तकरीबन रोजाना और…

”मत भूल मोदी मैं सूर्यपुत्री तापी हूं . . . . . .! ”

रामकिशोर पंवार ”रोंढावाला” आदिकाल से लेकर अंत तक भारत एवं भारतीय संस्कृति में नदी -नारी दोनो को ही जीवन दयानी के रूप के रूप मूें पूजा जाता रहेगा।  जहां एक ओर नारी जन्म देती है तो वही दुसरी ओर नदी…

हैदराबाद की बेटी सानिया मिर्जा

डॉ0 वेद प्रताप वैदिक अभी महाराष्ट्र सदन के कर्मचारी अर्शद जुवैर का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि सानिया मिर्जा का मामला गर्मा गया। सानिया को तेलंगाना प्रांत की सरकार ने अपना ‘ब्रांड एम्बेसेडर’ (नामी राजदूत) घोषित किया और…

जजों की नियुक्ति में सरकारी दखल

डॉ0 वेद प्रताप वैदिक न्यायपालिका में उच्चतम स्तर पर भ्रष्टाचार का एक नया मामला उजागर हुआ है। मद्रास उच्च न्यायालय के एक भ्रष्ट एडिशनल जज को स्थायी जज का दर्जा कैसे मिल गया, यह सवाल मार्कंडेय काटजू ने पूछा है।…

रोजे़दार अर्शद के मुंह में रोटी

डॉ0 वेद प्रताप वैदिक दिल्ली के महाराष्ट्र सदन में काम कर रहे एक कर्मचारी के साथ शिव सेना के सांसदों ने जिस तरह का बर्ताव किया है, वह निंदनीय है। उस कर्मचारी का नाम अर्शद जुबैर है। अर्शद जुबैर के…

नौकरी की मजबूरी

डॉ0 वेद प्रताप वैदिक न्यायमूर्ति मार्कन्डेय काटजू के रहस्योद्घाटन से किसकी प्रतिष्ठा पर आंच आई हैं? क्या कांग्रेस पार्टी की? क्या सरकार की? क्या तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश की, जिन्हें एक भ्रष्ट न्यायाधीश को सर्वोच्च न्यायालय में नियुक्त करने की सिफारिश…

 ‘देश कठपुतलियों के हाथ में’

जहां एक ओर दौड़-भाग भरी जिंदगी और तमाम इच्छाओं की त्वरित पूर्ति के लिए दिन-रात खपती युवा पीढ़ी के लिए साहित्य, समाज, देश और राजनीति के विषय में सोचना, लिखना, पढ़ना जैसे दूर की कौड़ी हो गया है। वहीं ग्वालियर-चंबल…

इस बार ७ रेसकोर्स में ईद-मिलन होगा या नहीं

पुण्‍य प्रसून वाजपेयी इस बार ७ रेसकोर्स में ईद-मिलन होगा या नहीं। यह सवाल मुश्किल होना नहीं चाहिये, लेकिन रमजान के दौर में लुटियन्स की दिल्ली जिस तरह इफ्तार पार्टियों से महरुम रही और इसी दौर में सत्ताधारियों का विचार…

सवाल छोड़ गया तेलंगाना रेल हादसा

गुरूवार का दिन नौनिहालों के लिए काल साबित हुआ| दरअसल तीन शहरों में स्कूली बच्चों से भरी वैन या बस की अन्य वाहनों से हुई टक्कर में २५ से अधिक बच्चों की मौत हो गई| पंजाब और कानपुर की घटनाओं…