हिन्दू और हिंदुत्व है हिंदुस्तान की पहचान : योगी सत्यनाथ जी महाराज

श्रीनिवास आर्य

हिंदू भारत के सनातन वैदिक धर्म का वर्तमान परिप्रेक्ष्य में महत्तम समापवर्तक है और हिंदुत्व हिंदुस्तान का प्राण तत्व है। जिसे आज के भारतवर्ष की आम सहमति भी कह सकते हैं।
हिंदुत्व भारतीय राष्ट्रीयता के संदर्भ में प्रयोग किया जाने वाला सबसे सार्थक शब्द है, जो सभी के विकास में विश्वास करता है और सभी को सबको साथ लेकर चलने की भावना से ओतप्रोत करता है। यह कहना है योगी सत्यनाथ जी महाराज का।
कांग्रेस के नेता राहुल गांधी की ओर से हिंदू और हिंदुत्व को लेकर चलाई गई नई बहस के संदर्भ में  योगी सत्यनाथ जी महाराज ने बिना किसी नेता का नाम लिए कहा कि जो लोग आज हिंदू और हिंदुत्व की परिभाषा कर रहे हैं उन्हें हिंदू और हिंदुत्व के मूल तत्व की तनिक भी जानकारी नहीं है वह नहीं जानते कि हिंदू और हिंदुत्व ने कितने घात प्रतिघातों को सहकर भी अपने अस्तित्व को बचाए बनाए रखने का कीर्तिमान कायम किया है। उन्होंने कहा कि संपूर्ण विश्व भारत की वैश्विक वैदिक संस्कृति के मार्गदर्शन में चलता रहा है । जब जब इस वैश्विक वैदिक सनातन संस्कृति को भुलाकर नवीन मूल्यों को अपनाकर लोगों ने विश्व शांति की बात की है तब तब उन्हें धोखा मिला है। इस्लाम और ईसाइयत की विचारधाराओं में विश्व शांति का दूर-दूर तक भी कहीं संकल्प दिखाई नहीं देता, जबकि भारत की वैदिक सनातन संस्कृति वसुधा को ही परिवार मानने की भावना पर जीवित रही है। उन्होंने कहा कि कृण्वंतो विश्वमार्यम् का संदेश और सर्वे भवंतु सुखिनः सर्वे संतु निरामया – की शाश्वत वाणी यदि कहीं सुनने को मिलती है तो वह वैदिक भारतीय संस्कृति के स्वर से ही सुनने को मिल सकती है। इसके अतिरिक्त किसी का भ्रातृत्ववाद, ब्रदरहुड या भाईचारा वैश्विक सनातन संस्कृति के अनुकूल दिखाई नहीं देता।
   योगी सत्य नाथ जी महाराज ने उगता भारत के साथ विशेष बातचीत में कहा कि राजा वही उत्तम होता है जो सारी प्रजा का समान दृष्टिकोण से बिना किसी भेदभाव और पक्षपात के ध्यान रखता है। उन्होंने कहा कि भारत के राजतंत्र को लोगों ने समझा नहीं। क्योंकि भारत का राजतंत्र वास्तविक लोकतंत्र की मूल भावना पर आधारित रहता था। जिसमें राजा जनक, मांधाता और उन जैसे अनेकों ऐसे सम्राट हुए जिन्होंने अपना संपूर्ण जीवन लोकहित के लिए समर्पित कर दिया था। उन्होंने अपनी मुक्ति नहीं बल्कि सारे संसार की मुक्ति के लिए काम किया। आज की योगी सरकार भी इसी दृष्टिकोण से काम कर रही है। यही कारण है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिना किसी पक्षपात और भेदभाव के प्रदेश के सभी लोगों को सामाजिक सुरक्षा उपलब्ध कराई है और विकास के सभी अवसरों पर सभी संप्रदायों के लोगों का समान अधिकार देकर दिखाया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *