दिल्ली दंगा : ताहिर हुसैन के घर की छत पर पेट्रोल बम एसिड और पत्थरों का मिला जखीरा

ताहिर हुसैन के घर की छत पर मिला पेट्रोल बम का जखीरा, गुलेल, एसिड और पत्थरों के ढेर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगों के दौरान आईबी के कॉन्स्टेबल अंकित शर्मा की हत्या कर दी गई थी। उनका शव चॉंदबाग के नाले से बरामद किया गया था। इस मामले में आप पार्षद ताहिर हुसैन की भूमिका संदिग्ध मानी जा रही है। हुसैन को लेकर लगातार चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। ताजा जानकारी के अनुसार, ताहिर हुसैन की छत पर से पेट्रोल बम का जखीरा, कट्टों और ट्रे में बड़े-बड़े पत्थर, गुलेल आदि बरामद किए गए है। इंडिया टीवी के पत्रकार कुमार सोनू की रिपोर्ट से इसका खुलासा हुआ।

इंडिया टीवी के रिपोर्टर सुशांत सिन्हा और आजतक की पत्रकार अंजना ओम कश्यप ने इस खबर को तस्वीरों सहित शेयर किया। दावा किया जा रहा है ये तस्वीर ताहिर हुसैन के घर की छत की है। यहाँ की कई वीडियो पहले भी सामने आ चुके हैं। इनमें ताहिर के घर की छत से दंगाई पत्थरबाजी करते और पेट्रोल बम फेंकते नजर आ रहे है। ताहिर भी हाथ में रॉड लिए दिख रहा है।

आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के घर की छत से इंडिया टीवी संवादाता कुमार सोनू की रिपोर्ट बताती है कि छत पर पेट्रोल बम का जखीरा, बड़े बड़े पत्थरों का अंबार , उन पत्थरों को चलाने के लिए गुलेल… सब मौजूद थे।

हल्ला बोल में जब मैंने AAP प्रवक्ता से पार्षद ताहिर हुसैन पर अंकित शर्मा के परिवार के आरोपों पर सवाल पूछा तो उन्होेने उल्टा कहा कि पार्षद के घर पर हमला हुआ था। क्रेट में सजे ये पेट्रोल बम, बड़े पत्थर और गुलेल आज भी ताहिर के छत से फैलाई हिंसा की गवाही दे रहे हैं।इतनी बड़ी साज़िश!

मीडिया रिपोर्टो के अनुसार जब कुछ मीडियाकर्मी उसके घर की छत पर पहुॅंचे तो चौंकाने वाला नजारा दिखा। पत्थर का अंबार लगा था। एक बड़ी सी गुलेल भी पड़ी थी। इसके अलावा कोल्ड ड्रिंक की बोतलों में पेट्रोल भरा था। कई कट्टे, बोरियॉं मिलीं जिनमें से कुछ में पत्थर भी थे।

फिलहाल ताहिर कहॉं है यह साफ नहीं है। लेकिन एक विडियो के जरिए उसे खुद को बेकसूर बताने की कोशिश की है। उसका कहना है कि हिंसा के वक्त वह घर में नहीं था और वह अपनी जान बचाकर एक रिश्तेदार के घर पर है।

भाजपा नेता एवं दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया है कि ताहिर के घर से निकले गुंडों ने ही आईबी के कॉन्स्टेबल अंकित शर्मा की हत्या की थी। पत्रकार राहुल पंडिता ने भी चश्मदीदों के हवाले से बताया है कि अंकित के अलावा दो और लोगों को दंगाई खींचकर ताहिर के घर ले गए थे।

जी न्यूज को अंकित शर्मा के भाई ने बताया, “मुस्लिम लोग जो सीएए-एनआरसी का विरोध कर रहे हैं, लोगों को मार रहे हैं, ये बहुत गलत कर रहे हैं। इन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। इन्होंने कई घरों का नाश कर दिया। इसमें एक घर हमारा भी बर्बाद हो गया।” अंकित के भाई के अनुसार उनके भाई ड्यूटी से लौट रहे थे जब दंगाई गली के बाहर से उन्हें खींचकर ले गए। उनके मुताबिक भीड़ चार लोगों को खींचकर ताहिर हुसैन के मकान में लेकर गई और उन्हें मारकर नाले में फेंक दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: