राष्ट्रपति कोविंद के लिए पाकिस्तान द्वारा एयर स्पेस न देना दुर्भाग्यपूर्ण: संदीप कालिया

नई दिल्ली । ( अजय आर्य ) अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष संदीप कालिया ने कहा है कि पाकिस्तान अपनी गंदी हरकतों से बाज आने वाला देश नहीं है । अब इसका अस्तित्व मिटने के निकट है और भारत को अब इसके हर पाप का हिसाब कर देना चाहिए। श्री कालिया ने कहा कि भारत के राष्ट्रपति गोविंद के लिए एयर स्पेस न खोलने का पाकिस्तानी सरकार का निर्णय निंदनीय है । जिसके विरुद्ध भारत की सरकार को भी प्रतिशोधात्मक कठोर कार्यवाही करनी चाहिए ।

उन्होंने कहा कि भारत से संबंध सुधारने का दिखावा करने वाले पाकिस्तान ने देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए एयरस्पेस खोलने से इनकार कर दियल भारी भूल की है । याद रहे कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को कहा था कि मौजूदा हालात में पाकिस्तान भारत को अपने एयरस्पेस के इस्तेमाल की इजाजत नहीं दे सकता है । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद विगत 9 सितम्बर को आइसलैंड, स्विटजरलैंड और स्लोवेनिया के दौरे पर जाने वाले थे ।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक बयान में कहा, “भारत की सरकार ने पाकिस्तान से एयरस्पेस के इस्तेमाल की इजाजत मांगी थी, ये उनके राष्ट्रपति के विदेश दौरे से जुड़ा हुआ था, मौजूदा हालात को देखते हुए पाकिस्तान ने भारत को अपने एयरस्पेस के इस्तेमाल की इजाजत नहीं दी है । ”

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पाकिस्तान के सरकारी टीवी चैनल पीटीवी को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस फैसले को हरी झंडी दी है ।

श्री कालिया ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री के द्वारा ही ऐसा निर्णय लिया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है । इससे दक्षिण एशिया में क्षेत्रीय असंतुलन बढ़ेगा और सैनिक टकराव की संभावनाएं प्रबल होंगी । उन्होंने कहा कि भारत सरकार को हर समय सावधान रहने की आवश्यकता है । यद्यपि हमें अपने सैनिकों पर पूरा विश्वास है परंतु नेतृत्व के लिए भी आवश्यक है कि वह 1962 की तरह सोता ना रह जाए ।श्री कालिया ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के उस प्रत्येक निर्णय का हिंदू महासभा समर्थन करेगी जो राष्ट्रहित में वह पाकिस्तान या आतंकवादियों के विरुद्ध लेंगे ।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सोमवार को तीन देशों की विदेश यात्रा पर गये थे । ये देश हैं- आइसलैंड, स्विटजरलैंड और स्लोवेनिया । इसी साल फरवरी में बालाकोट में भारत के एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया था । पाकिस्तान ने लंबे समय तक अपना एयरस्पेस बंद रखने के बाद इसे खोला था । पाकिस्तान अपने एयरस्पेस का रणनीतिक इस्तेमाल करता रहता है । इसी वर्ष जून में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में शिरकत करने जाना था तो पाकिस्तान ना नुकुर करने के बाद पीएम मोदी के लिए एयरस्पेस खोलने पर राजी हुआ था । लेकिन पीएम मोदी ने पाकिस्तान के एयरस्पेस से न गुजरने का करने का फैसला लिया था और वे दूसरे रास्ते से किर्गिस्तान पहुंचे थे ।. बता दें कि पाकिस्तान ने ये फैसला तब लिया था जब भारत ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 नहीं हटाया था ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: