‘हाउडी’ मोदी कार्यक्रम में बोले प्रधानमंत्री मोदी: आतंकवाद को पालने वालों के विरुद्ध निर्णायक लड़ाई का समय

(ब्यूरो डेस्क) गाजियाबाद। प्रधानमंत्री मोदी का जलवा न केवल भारत में बल्कि भारत से बाहर गई लगातार कायम है । इस बात का एहसास हाउडी मोदी में स्पष्ट देखने को मिला। अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित इस कार्यक्रम में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी शिरकत की ।कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की सराहना करते हुए उन्हें ‘विशेष व्यक्ति’ बताया, वहीं ट्रंप ने मोदी को अमेरिका का सच्चा मित्र बताया. पीएम मोदी ने कहा, ‘वह (ट्रम्प) किसी परिचय के मोहताज नहीं है , क्योंकि उनका नाम धरती पर हर व्यक्ति को पता है’ उन्होंने कहा, ‘मैं उनके नेतृत्व, अमेरिका के लिए उनकी चाहत और हर अमेरिकी के लिए उनकी चिंता के कारण राष्ट्रपति ट्रम्प की प्रशंसा करता हूं. जब मैं इनसे पहली बार मिला था तो ट्रम्प ने मुझे बताया था कि भारत का व्हाइट हाउस में सच्चा मित्र है ।’
वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री मोदी को अमेरिका का सबसे बड़ा, सबसे सच्चा मित्र बताते हुए कहा कि वह भारत के लिए असाधारण काम कर रहे हैं । ट्रम्प ने पिछले सप्ताह 69 वर्ष के हुए प्रधानमंत्री मोदी को जन्मदिन की बधाई दीं. उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में दुनिया मजबूत, फलता-फूलता और संप्रभु भारत देख रही है ।’ बता दें कि पीएम मोदी के स्टेडियम पहुंचते ही वहां मौजूद करीब 50 हजार लोगों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया । पीएम नरेंद्र मोदी ने संबोधन की शुरुआत ‘गुड मॉर्निंग ह्यूस्टन, गुड मॉर्निंग टेक्सास, गुड मॉर्निंग अमेरिका…’ से की. राष्ट्रपति ट्रंप का परिचय देते हुए उन्होंने कहा, आज हमारे साथ बेहद खास शख्सियत (अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप) हैं, जो किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. इनसे (अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से) मुलाकात कर हर बार दोस्ती का एहसास होता है. उन्होंने अमेरिकी अर्थव्यवस्था को फिर मज़बूत किया.
पीएम मोदी ने कहा, यह दृश्य, माहौल अकल्पनीय है, भारत और अमेरिका के बीच नई कैमिस्ट्री बनी है, हर बात का विशाल होना टेक्सास का स्वभाव है. कार्यक्रम का नाम है ‘ हाउडी मोदी’ लेकिन मोदी अकेला कुछ नहीं है, मैं 130 करोड़ भारतीयों के आदेश पर काम करने वाला साधारण व्यक्ति हूं. ‘ हाउडी मोदी’ का जवाब है कि भारत में सब अच्छा है. हाउडी मोदी कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई भारतीय भाषाओं में दोहराया, ‘सब अच्छा चल रहा है…’ पीएम ने कहा, लोकसभा चुनाव 2019 में 61 करोड़ मतदाताओं ने हिस्सा लिया, सबसे ज़्यादा महिलाएं सांसद चुनी गईं. भारत में दशकों बाद पहली बार कोई सरकार कार्यकाल पूरा करने के बाद पहले से ज़्यादा बड़ा जनादेश हासिल कर पाई, यह देशवासियों की वजह से संभव हो पाया.
पीएम मोदी ने कहा, जनभागीदारी भारत की सबसे बड़ी नीति, न्‍यू इंडिया भारत का सबसे बड़ा संकल्‍प है. धैर्य हमारी पहचान रहा है, लेकिन अब हम देश के विकास के लिए अधीर हैं, आज भारत में सबसे बड़ा शब्द है ‘विकास, हम खुद को चुनौती दे रहे हैं, हम खुद को बदल रहे हैं. भारत ज़्यादा तेज़ गति से बढ़ना चाहता है. हमारा लक्ष्य ऊंचा है, हमारी उपलब्धि और भी ऊंची है. पीएम मोदी ने कहा कि पांच साल में 11 करोड़ शौचालय बनवाए, भारत ने 99 फीसदी ग्रामीण स्वच्छता हासिल की. पांच साल में 15 करोड़ नए गैस कनेक्शन दिए, रसोई गैस कनेक्शन 95 फीसदी हुए. पांच साल में देश के लगभग 100 फीसदी परिवार बैंकिंग से जुड़ चुके हैं. पांच साल में गांवों में दो लाख किलोमीटर सड़क बनाई गई.
पीएम मोदी ने कहा, पांच साल में 37 करोड़ बैंक एकाउंट खुलवाए, भारत आज ‘न्यू इंडिया’ का सपना पूरा कर रहा है, पांच साल में हमने जितना विकास किया, वह अकल्पनीय है. डेटा आज के दौर का नया सोना है, दुनिया में सबसे कम कीमत पर डेटा भारत में ही उपलब्ध है. आज देश के लोग बड़े सपने देख पा रहे हैं. केंद्र तथा राज्य सरकारों की लगभग 10,000 सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं. पासपोर्ट और वीज़ा में आने वाली दिक्कतें खत्म हुईं, 31 अगस्त को 50 लाख लोगों ने ऑनलाइन इनकम टैक्स रिटर्न भरा. कई तरह के अलग-अलग टैक्स के जाल को खत्म कर जीएसटी लागू कर दिया, आठ करोड़ फर्ज़ी नामों को हटाकर डेढ़ लाख करोड़ रुपये गलत हाथों में जाने से बचाए ।

…जब हाऊडी कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी, ‘अबकी बार ट्रंप सरकार ‘

पीएम ने कहा, भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए लगातार कदम उठा रहे हैं, साढ़े तीन लाख फर्ज़ी कंपनियां बंद कीं, हमारा मुकाबला किसी और से नहीं, खुद से है ।अनुच्छेद 370 ने जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के लोगों को समान अवसरों से वंचित रखा था, और इस स्थिति का लाभ अलगाववादी ताकतें उठा रही थीं, हमने वह खत्म कर दिया. अब जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के लोगों को शेष भारत जैसे अधिकार हासिल हैं. जिनसे अपना खुद का देश भी संभल नहीं रहा है, उन्हें अनुच्छेद 370 हटाए जाने से दिक्कत है, क्योंकि उन्होंने भारत के प्रति नफरत को ही अपनी राजनीति का केंद्र बना लिया है. ऐसे ही लोग आतंकवाद को पाल रहे हैं, अब वक्त आ गया है कि इनके खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए.
राष्ट्रपति ट्रंप ने इस अवसर पर कहा कि इस्‍लामिक कट्टरपंथ और आतंकवाद से लड़ने के लिए दोनों देश एक हों ।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, भारत आज प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के पसंदीदा ठिकानों में शामिल है । पिछले पांच साल में विदेशों में भारतीय समुदाय से संपर्क का तरीका और दायरा बदल डाला है। आप भले ही वतन से दूर हों, लेकिन आपके वतन की सरकार आपसे दूर नहीं है ।आपको बता दें कि इससे पहले राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने संबोधन में भारत-अमेरिका रिश्तों का जिक्र करते हुए कहा कि भारत और अमेरिका के रिश्ते आज जैसे मज़बूत कभी नहीं रहे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के बेहद खास मित्र हैं. दोनों देशों (भारत और अमेरिका) के लोग खुशहाल हो रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विकासोन्मुख नीतियों की बदौलत भारत में 30 करोड़ लोग गरीबी रेखा से ऊपर आए, जो एक शानदार संख्या है.
ट्रंप ने कहा, दोनों देशों (भारत और अमेरिका) की अर्थव्यवस्थाएं बेहतर हो रही हैं. अमेरिका में बेरोज़गारी 50 साल में सबसे निचले स्तर पर है. भारतीय-अमेरिकी नई तकनीक में आगे हैं. ट्रंप ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मैं आपके साथ मिलकर दोनों देशों (भारत और अमेरिका) को और खुशहाल बनाऊंगा. ट्रंप ने कहा कि भारत में अमेरिका का निर्यात बढ़ रहा है. हम भारत में निवेश बढ़ा रहे हैं, अमेरिका और भारत के बीच सामरिक साझीदारी बढ़ी है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में दुनिया मजबूत, फलता-फूलता और संप्रभु भारत देख रही है. कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद बड़ी चुनौती है. भारत और अमेरिका समझते हैं कि हमें अपनी सीमाओं की रक्षा करनी होगी. इस्लामी कट्टरपंथ और आतंकवाद से लड़ने के लिए दोनों देश (भारत और अमेरिका) एकजुट हैं ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *