प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त: रामकृष्ण तिवारी

राजनीति

मनीष पाण्डेय

फैजाबाद, विधुत समस्या, किसानो की समस्या, महिलाओं पर हो रहे  ताबड़तोड़ अपराध, गिरती कानून व्यवस्था तथा अन्य जन विरोधी नितियों के विरोध में भाजपा ने प्रदेश सरकार के विरूद्ध हजारों की संख्या में तहसील परिसर के सामनें एक दिवसीय धरना कर महामहिम राज्यपाल को सम्बोधित 11सूत्रीय ज्ञापन उपजिलाधिकारी सदर को प्रेषित display_image-aspx-239x300किया । उत्साह से लबरेज भाजपा कार्य कर्ताओं ने प्रशासन को समस्या के समाधान के लिए दो टूक चेतावनी दी व समाधान न होनें की दशा में सरकार के लिखाफ निर्णायक आन्दोलन छेडनें का आवाहन किया । वक्ताओं ने एक एक कर सरकार की जनविरोधी नीतियों की बखिया उधेड़ी व सपा सरकार के मंत्रियों की घिनौनी हरकतो का सिलसिलेवार ब्यौरा धरनें के माध्यम से सार्वजनिक किया ।  धरनें की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष रामकृष्ण तिवारी ने किया व संचालन अवधेश पाण्डेय बादल ने किया।  जिला अध्यक्ष श्री तिवारी ने कहा कि पूरे जिले में अघोषित विद्युत कटौती से त्राही त्राही मची हुई है। पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। जिसकी वजह से प्रदेश में जंगल राज कायम है। उन्होनें प्रदेश सरकार से धरने के माध्यम से 20घण्टे विजली दिया जाए अन्यथा भाजपा सडक़ पर
उतरकर संर्घष करेगी। पूर्व जिला अध्यक्ष विश्वनाथ सिंह ने धरनें के माध्यम से प्रदेश सरकार को चेतावनी दी है कि यदि महिलाओं के साथ हो रहें अत्याचार को तत्काल नहीं रोका गया तथा विद्युत व्यवस्था, कानून व्यवस्था ठीक न हुआ तो जो हाल केन्द्र में कांग्रेस सरकार की हुयी वही हाल एक साल के अन्दर प्रदेश की सपा सरकार की भी होनें वाला है।

राष्ट्रीय परिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंह ने कहा कि आज विधुत व्यवस्था पंगु हो गयी है। विजली आने और जानें का कोई निश्चित समय ही नहीं हैं । जिसकी वजह से किसान, व्यापारी ,  व आमजन तस्त्र हो गये है उन्होनें   कहा कि स.पा  जहां पर चुनाव जीती है वहं पर पूरी विजली मिल रही है जहां सपा चुनाव हारी हैं वहां विजली का संकट हैं उन्होनें प्रदेश सरकार को चेतावनी दी है कि अविलम्ब विधुत व कानून व्यवस्था ठीक किया जाये अन्यथा भाजपा सडक़ पर उतरेगी।  ज्ञापन में मांग की गयी हैं कि पूरे जिले की अघोषित विधुत कटौती ठीक कर 20 घंटै विजली दी जाय, पूरे जिले में जले हुए ट्रांसफार्मर शीध्र बदले जायें, लो वोल्टेज  की समस्या से निजात दिलायी जाये। पूरे जिले के सभी नहरों में टेल तक अविलम्ब पानी पहुचाया जाये व खराब नलकूप की मरम्मत करायी जाय। महिलाओ ंपर हो रहे ताबड़तोड़ अपराध पर शीघ्र अंकुश लगाया जाय, पूरे जिले में कानून व्यवस्था ध्वस्थ हैं तथा जंगल राज कायम है इस पर प्रभावी कार्यवाही कर अपराध पर अंकुश लगाया जाय, किसानों के बकाया  गन्ना मूल्य का भुगतान शीध्र कराया जाए आदि  मागें शमिल है।  धरनें को सम्बोधित करनें वालों में पूर्व विधायक रामू प्रियदर्शी, मथुरा तिवारी , अशोका द्विवेदी, राजेश तिवारी डॉ0 सराज मिश्रा, बिन्दू सिंह, चन्द्रवली सिंह, अरविन्द सिंह, मालती चौहान, रामकुमार सिंह राजू, राममोहन भारती अशोक वर्मा, पालिका अघ्यक्षों  में राधेश्याम गुप्ता, अशोक कसौधन, हरिपाल वर्मा, मिंटू सिंह, महेन्द्र चौरसिया, खुन्नू पाण्डेय, शिवकुमार सिंह, संजींव सिंह, अशोक मिश्रा, रमाकान्त विश्वकर्मा, अखण्ड सिंह डिम्पल, शकुन्तला त्रिपाठी , डॉ0 एल0जे0 सिंह, डॉ राकेश वशिष्ठ , विश्वम्भर सिंह, रामचन्द्र वर्मा, दान बहादुर सिंह, संग्राम सिंन्हा, ज्ञान केशरवानी , सरजू दूवे, डां0 बी0डी0द्विवेदी, रमापति पाण्डेय, मुरारी सहाय सिंन्हा, बाबूराम यादव, हरभजन गौड़, रणधीरसिंह,डब्बू, निर्मल शर्मा आदि थे।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *