कर्मचारी का आमरण अनशन समाप्त

प्रमुख समाचार/संपादकीय

एन.टी.पी.सी में काम करने का दावा करने वाले युवक आनन्द कुमार श्रीवास्तव ने सी.ओ.टाण्डा के आश्वासन पर आमरण अनशन समाप्त किया सी.ओ. ने दूध पिलाकर अनशन को समाप्त कराया। युवक आनन्द कुमार श्रीवस्तव ने बताया कि क्षेत्राधिकारी टाण्डा ने पूरे प्रकरण की जॉच कराकर 15 दिनों के भीतर मामले का निपटारा कराने का आश्वासन दिया है। उन्हीं के कहने पर आमरण अनशन समाप्त कर रहा हूँ। यदि 15 दिनों के भीतर मामले का निस्तारण नहीं किया गया तो वह पुन: एनटीपीसी परियोजना गेट के सामने अनिश्चित कालीन आमरण अनशन करुॅगा। इसके पूर्व बुधवार को लगभग 2:30 बजे सी.ओ टाण्डा अशोक कुमार सिंह ने दूध पिलाकर युवक का अनशन समाप्त कराया। ज्ञातव्य हो कि युवक द्वारा एनटीपीसी कार्य करने के बाद अधिकारियों द्वारा उसे हटाने काम कराने के बाद बकाया भुगतान न करने वाले अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज करने तथा नौकरी पर रखने की विभिन्न मांगों को लेकर विगत सोमवार को टाण्डा तहसील मुख्यालय पर धरने पर बैठ गया था आनन्द कुमार का आरोप है कि वह एनटीपीसी टाण्डा में सिविल अनुरक्षण कालोनी में 1 दिसम्बर 2010 से लगातार कार्य कर रहा था लेकिन बिना किसी कारण के 14 जुलाई 2011 को सिविल मैनेजर ने उसे कार्य से हटा दिया। और बकाया वेतन भी नहीं दिया जिसकी सूचना महाप्रबन्धक को दी जिस पर 14 नवम्बर 2011 यूपीएल के एक कर्मचारी को बुलाया मगर कोई सुनवाई नहीं की गयी। युवक आनन्द कुमार पिछले दिनों भी इसी प्रकरण को लेकर कालोनी के गेट के समक्ष अनशन कर चुका है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *