अच्छी रैंक पर ही जीबीयू में दाखिला

प्रमुख समाचार/संपादकीय

गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय (जीबीयू) नए सत्र के दाखिले के लिए आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो गई है। अब कैंपस में प्रवेश परीक्षा को लेकर हलचल शुरू हो गई है। परीक्षा के लिए देशभर में 18 केंद्र निर्धारित किए गए हैं। विवि का इस बार शैक्षिक गुणवत्ता पर विशेष बल देगा। इस बार काउंसलिंग के जरिये हाई रैकिंग वाले छात्रों का दाखिला दिया जाएगा। इसके लिए कट ऑफ लिस्ट का प्रतिशत गत वर्ष के सापेक्ष ऊपर जा सकता है।
प्रवेश परीक्षा दो चरणों में होगी। पहले चरण में 20 मई को पांच व छह वर्षीय डुअल डिग्री कोर्स की प्रवेश परीक्षा होगी, जबकि दूसरे चरण में 27 मई को परास्नातक स्तर पर के पाठ्यक्रमों की प्रवेश परीक्षा होगी। परीक्षा परिणाम 15 तक निकल जाएगा, जबकि जून आखिर में काउंसलिंग शुरू कर दी जाएगी। विवि सूत्रों के मुताबिक, स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग, स्कूल ऑफ बायोटेक, स्कूल ऑफ मैनेजमेंट व स्कूल ऑफ आइसीटी के तहत संचालित हो रहे पांच वर्षीय डुअल डिग्री कोर्स में दाखिले के लिए इस वर्ष छात्रों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है। काउंसलिंग में शामिल होने वाले हाई रैकिंग के छात्रों को ही दाखिला मिल सकेगा। अ‘छे फीसद अंक हासिल करने वालों का दाखिला मिलेगा। पिछले दिनों विवि एकेडमिक काउंसलिंग की बैठक में यह निर्णय लिया गया। सत्र 2012 में दाखिले की प्रवेश परीक्षा को जीबीयू ने पूरे देश 18 केंद्र बनाए हैं। इसमें विवि कैंपस, नोएडा, दिल्ली, लखनऊ, गोरखपुर, देहरादून, ग्वालियर, जम्मू, चंडीगढ़, गुवाहाटी, जयपुर, रांची, भुवनेश्वर, कोलकाता, चेन्नई, हैदराबाद, अहमदाबाद और बंगलुरू शामिल हैं। गत वर्ष सिर्फ पांच ही सेंटर थे। परीक्षा के लिए विवि स्तर पर फ्लाइंग स्क्वायड की टीम भी बनाई गई है।विवि ने छात्रों को प्रवेश पत्र जारी कर दिया है। प्रवेश पत्र से वंचित रहने वाले छात्र परीक्षा केंद्र से एक दिन पहले तक प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकते हैं। विवि प्रवक्ता डॉ. ओम प्रकाश ने बताया कि परीक्षा की तैयारी पूरी कर ली गई है। शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिए कट ऑफ का फीसद बढ़ाने की योजना बनाई गई है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *