उपराष्ट्रपति पद की जुगाड़ में जसवंत सिंह

प्रमुख समाचार/संपादकीय

नई दिल्ली। राष्ट्रपति चुनाव की गहमागहमी के बीच वरिष्ठ भाजपा नेता जसवंत सिंह भी उपराष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल हो गए हैं।सूत्रों की माने तो भाजपा-कांग्रेस में इस मामले पर मौन सहमति हो गई है कि यदि उपराष्ट्रपति पद के लिए जसवंत सिंह के नाम पर सहमति बन जाती है तो प्रणव मुखर्जी का निर्विरोध राष्ट्रपति चुना जाना सुनिश्चित हो जाएगा। ऐसा माना जा रहा है कि भाजपा अभी उपराष्ट्रपति पद को लेकर अनिर्णय की स्थिति में है। वह ऐसे कदम नहीं उठाना चाहती जिससे पार्टी को बाद में शर्मिदगी का सामना करना पड़े। ऐसे में माना जा रहा है कि जसवंत व्यक्तिगत स्तर पर राजनीतिक दलों के बीच अपनी लॉबिंग करेंगे तथा यदि सब कुछ सकारात्मक रहा तो भाजपा जसवंत को बतौर प्रत्याशी उतार देगी। इसी सिलसिले में मंगलवार को जसवंत ने समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव से मुलाकात भी की।इसके अतिरिक्त जसवंत को उपराष्ट्रपति बनाए जाने को लेकर एनडीए के सहयोगी दलों का क्या रुख है इसे भी ध्यान में रखना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *