Categories
आर्थिकी/व्यापार

पांच लाख करोड़ डालर की भारतीय अर्थव्यवस्था ग्रामीण विकास के सहारे ही बनेगी

आज विश्व के लगभग सभी विकसित एवं विकासशील देश आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे हैं। इन समस्त अर्थव्यवस्थाओं के बीच भारतीय अर्थव्यवस्था को वैश्विक स्तर पर एक चमकते सितारे के रूप में देखा जा रहा है। भारतीय अर्थव्यवस्था में लगातार तेज गति से हो रहे सुधार के चलते आज भारत का नाम पूरे विश्व में […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

वर्तमान चुनौतियों से निपटने के लिए मजबूत औद्योगिक नीति की जरूरत

देश का सन्तुलित विकास करने कि लिए संसाधनों को उचित दिशा में प्रवाहित करने कि लिए, उत्पादन बढ़ाने के लिए, वितरण की व्यवस्था सुधारने के लिए, एकाधिकार, संयोजन और अधिकार युक्त हितों को समाप्त करने अथवा नियन्त्रित करने के लिए कुछ गिने हुए व्यक्तियों के हाथ में धन अथवा आर्थिक सत्ता के केन्द्रीकरण को रोकने […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार समाज

जनजाति समाज के लिए चलाई जा रही आर्थिक विकास की योजनाएं

जनजाति समाज बहुत ही कठिन परिस्थितियों का सामना करते हुए देश में दूर दराज इलाकों के सघन जंगलो के बीच वनों में रहता है। जनजाति समाज के सदस्य बहुत ही कठिन जीवन व्यतीत करते रहे हैं एवं देश के वनों की सुरक्षा में इस समाज का योगदान अतुलनीय रहा है। चूंकि यह समाज भारत के […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

क्या मोदी डालर के विरुद्ध हैं ?

भारत में छद्दम धर्म-निरपेक्ष मोदी और योगी पर प्रहार करते नहीं थक रहे, विदेशी भारत विरोधियों के हाथों की कठपुतली बन भारतीय जनता को गुमराह कर रहे हैं। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन सब पर एक और कुठाराघात करने का मन बना चुके हैं। जिस कारण उन पर मोदी पर छद्दम देशप्रेमी गैंग और जहर […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

युगदृष्टा एवं राष्ट्रऋषि श्री दत्तोपंत ठेंगड़ी के जन्म दिवस (10 नवम्बर) पर विशेष लेख

आर्थिक क्षेत्र में भी राष्ट्रीयता का भाव होना आवश्यक श्री दत्तोपंत जी ठेंगड़ी का जन्म 10 नवम्बर, 1920 को, दीपावली के दिन, महाराष्ट्र के वर्धा जिले के आर्वी नामक ग्राम में हुआ था। श्री दत्तोपंत जी के पित्ताजी श्री बापूराव दाजीबा ठेंगड़ी, सुप्रसिद्ध अधिवक्ता थे, तथा माताजी, श्रीमती जानकी देवी, गंभीर आध्यात्मिक अभिरूची से सम्पन्न […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

10 से लेकर 2000 तक के नोटों पर छपे हैं इन ऐतिहासिक धरोहरों के चित्त

रविराज वर्मा भारत देश अलग-अलग धर्म, संस्कृति और परंपराओं का घर है। देश की विरासत इसकी ऐतिहासिक धरोहरों में साफ झलकती है। भारतीय रिज़र्व बैंक हर करेंसी नोट के सामने की ओर राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की तस्‍वीर छापता है जबकि नोट के पीछे की तरफ देश के किसी एक मॉन्‍यूमेंट की तस्‍वीर छापी जाती है […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

क्या रुपया वास्तव में कमजोर नहीं हुआ ?

क्या रुपया नहीं हुआ कमजोर? डॉलर के वर्चस्व ने बढ़ाई मुश्किल, जानें वित्त मंत्री के बयान की हकीकत, आंकड़ों की जुबानी अभिनय आकाश अगस्त के शुरुआती महीने में 1 पाउंड की कीमत 1.22 डॉलर हुआ करती थी। लेकिन सितंबर आते-आते ये गिरकर 1.16 डॉलर प्रति पाउंड हो गई। जबकि 17 अक्टूबर को 1.13 डॉलर प्रति […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

भारत में त्यौहारों का मौसम देता है अर्थव्यवस्था को गति

भारतीय संस्कृति में त्यौहारों का विशेष महत्व है एवं भारतीय नागरिक इन त्यौहारों को बहुत ही श्रद्धा एवं उत्साह के साथ मनाते है। गणेश चतुर्थी, नवरात्रि, दशहरा, दीपावली, होली, ओणम, रामनवमी, महाशिवरात्रि, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, आदि त्यौहारों को भारत में सबसे महत्वपूर्ण त्यौहारों में गिना जाता है। कुछ त्यौहारों, जैसे दीपावली, के तो एक दो माह […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

पयर्टन क्षेत्र के तेजी से उबरते ही बढ़ने लग गये हैं रोजगार के अवसर

प्रह्लाद सबनानी पयर्टन क्षेत्र के तेजी से उबरते ही बढ़ने लग गये हैं रोजगार के अवसर अभी हाल ही में जारी की गई सीधी नियुक्ति मंच हायरेक्ट की ‘जॉब इंडेक्स रिपोर्ट’ के अनुसार, जून 2022 से अगस्त 2022 के तीन महीनों के दौरान टूर एंड ट्रेवल उद्योग में नए रोजगार के अवसरों में जोरदार तेजी […]

Categories
आर्थिकी/व्यापार

उत्तर प्रदेश को निवेश का सर्वाधिक आकर्षक केंद्र बनाने की धुन में लगे हैं योगी आदित्यनाथ

डॉ. रमेश ठाकुर सिंगल विंडो सिस्टम लागू होने से निवेशकों के लिए उद्योग धंधे लगाने का रास्ता पहले के मुकाबले अब सुगम हुआ है। ऐसे प्रयास केंद्र से लेकर सभी राज्यों को भी करने चाहिए। राज्य में विकास के लिए हो रहे प्रयासों का प्रतिफल एक गुणात्मक शक्ल के तौर पर दिखा है। बाबा हैं […]

Exit mobile version