Categories
देश विदेश महत्वपूर्ण लेख राजनीति विविधा

क्या पीओके वापस लेने की तैयारी में है भारत ?

-हिमांशु मिश्र पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू कश्मीर को लेकर भारतीय सेना के उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी का बड़ा बयान आया है। उन्होंने कहा कि PoK (पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर) को वापस लेने के लिए भारतीय सेना पूरी तरह से तैयार है। जब भी सरकार आदेश देगी, हम उसपर अमल कर देंगे। […]

Categories
मुद्दा विविधा समाज

शादी के नाम पर बिकती लड़कियां

शादी के नाम पर पहले बेची गई और फिर कुछ महीनों बाद ही पति के हाथों ही जिस्मफरोशी के दलदल में धकेल दी गई 26 साल की राधा (बदला हुआ नाम) को अपनी 9 साल की बच्ची के जैविक पिता के बारे में नहीं मालूम. अररिया (बिहार का एक अति पिछड़ा जिला) से तकरीबन 1200 […]

Categories
आतंकवाद विविधा

‘नो टेरर’ का “टेरर” कब परिभाषित होगा ?

यह अत्यंत सुखद है कि दिल्ली में वैश्विक आतंकवाद को नियन्त्रित करने के लिए विश्व के लगभग 70 देशों का “नो मनी फॉर टेरर” पर दो दिवसीय सम्मेलन हुआ है l कुछ समय पूर्व दिल्ली में ही संयुक्त राष्ट्र संघ की आतंकवाद निरोधी समिति एवं इंटरपोल का भी एक महत्वपूर्ण सम्मेलन हुआ था l यह […]

Categories
विविधा

मुस्लिम महिला और बुर्का

बेबी को बाबुल नहीं बुर्का पसंद है डॉक्टर मोहन लाल गुप्ता भारत की जनसंख्या वर्ष 2001 से 2011 के बीच में 1.7 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से बढ़ी थी जबकि ई. 2011 से 2022 के बीच में 1.2 प्रतिशत बढ़ी है। इस दर से बढ़ती हुई आबादी भी भारत पर इतना बोझ डाल रही है […]

Categories
विविधा

ज्ञानी भक्त और पितरों के रूप में पूज्य होने के बावजूद कौवे को समाज में उचित स्थान नहीं

आचार्य (डा.) राधे श्याम द्विवेदी चतुर चालाक पक्षी:- कौआ काले रंग का एक पक्षी है , जो कर्ण कर्कश ध्वनि ‘काँव-काँव’ करता है। उसे बहुत उद्दंड, धूर्त तथा चालाक पक्षी माना जाता है। बिगड़ रहे पर्यावरण की मार कौओं पर भी पड़ी है। कौओं का दिमाग लगभग उसी तरीके से काम करता है, जैसे चिम्पैन्जी […]

Categories
विविधा

अयोध्या का कल्पवास एक साधना है ?

आचार्य डा.राधे श्याम द्विवेदी अयोध्यावास की लालसा:- राम करणामृतम(१/६३-६५) में अयोध्यावास की लालसा का वर्णन कुछ इस प्रकार किया गया है।यह अयोध्या दर्शन गीताप्रैस के पृष्ट 111 से उद्धित किया गया है। कदा वा साकेते विमल सरयू पुनीत पुलिने समासीन: श्रीमदरघुपतिपदाबजे हृदि भजन। अये राम स्वामिन जनक तनया बल्लभ विभो प्रसीदेति क्रोशन्नीमिषमिव नेष्यामि दिवसान।। कदा […]

Categories
विविधा

मध्यप्रदेश: भारत का सांस्कृतिक तिलक 

मध्यप्रदेश: भारत का सांस्कृतिक तिलक  मध्यप्रदेश वस्तूतः केवल भौगोलिक ह्रदयस्थली नही बल्कि भारत का मानसस्थल है। यहीं से संपूर्ण भारत में जागरण, चैतन्यता व सांस्कृतिक तेज का भाव संचारित होता है। यह प्रदेश एक तरफ़ से उत्तरप्रदेश, दूसरी तरफ़ से झारखण्ड, तीसरी तरफ़ से महाराष्ट्र, चौथी तरफ़ से राजस्थान, पाँचवी तरफ़ से गुजरात और छठवीं […]

Categories
विविधा

बस अल्लाह का करम है

सुबह सुबह बुजुर्ग अब्दुल चच्चा अपने घोड़े को जीन पहना रहे थे। मैने पूछा कैसे हो? वो बड़े खुश मिजाजी से बोले अल्लाह का करम है, सब इत्मीनान से हैं। मैने कहा कि चच्चा,, अब तो आपकी उम्र हो गई, वो तपाक से बोले, बेटा घोड़ा और आदमी तब तक जवान रहते हैं जब तक […]

Categories
विविधा

गैर मुस्लिमों के त्योहारों पर गाना बजाना रसूल की सुन्नत है !

गैर मुस्लिमों के त्योहारों पर गाना बजाना रसूल की सुन्नत है ! हम देखते हैं कि जब भी हिन्दू कोई उत्सव या पर्व मनाते हैं तो उसमे भजन ,आरती आदि में संगीत और गायन का आयोजन अवश्य होता है ,और ऐसे आयोजनों में कई बार मुस्लिम युवक और लड़कियां भी शामिल हो जाती हैं , […]

Categories
विविधा

लखनऊ को नवाबों का शहर कहना इस्लामिक प्रोपागेंडा का चरमोत्कर्ष है*

*अयोध्या पुरी और लक्ष्मणपुरी ये दो शहर ऐसे ही आपस में जुड़े हुए थे जैसे भगवान राम और उनके स्वामिभक्त छोटे भाई लक्ष्मण का नाम आपस में जुड़ा हुआ है। श्री अयोध्या पुरी भगवान राम की सेवा में थी और लक्ष्मणपुरी की स्थापना श्री लक्ष्मण ने की थी ।* *कांग्रेसी शिक्षा मंत्री मौलाना आजाद के […]

Exit mobile version