ज्यादा पानी पाने से भी हो सकते हैं सेहत को कई नुकसान

पानी प्यास बुझाने के साथ-साथ सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है लेकिन शायद ही किसी को पता हो कि पानी पीने से किडनी फेल होने का खतरा रहता है। गलत पोजीशन और ज्यादा पानी पाने से किडनी के साथ-साथ सेहत को कई तरह के नुकसान हो सकते है। दिन में कम से कम 5 से 6 गिलस पीना ही सेहत के लिए अच्छा होता है। इससे अधिक पानी पानी से सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है।
1. ज्यादा पानी के नुकसान पानी पीना सेहत के लिए फायदेमंद होता है यही सोच कर आप दिन में कम से कम 9 से 10 गिलास यानी 2 लीटर तक पानी पी जाते है। रोजाना आप जो भाजन करते है उसमें भी कुछ हद तक पानी की मात्रा होती है जिससे आप 2 लीटर से भी ज्यादा पानी एक दिन में पी लेते है, जोकि आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। शरीर में पानी का ओवरडोज होने से आपको किडनी फेल होने का खतरा रहता है।
2. खड़े होकर पानी पीना कुछ लोगों को खड़े होकर पानी पीने की आदत होती है। जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। आपको बता दे पानी पाने का सही तरीका हमेशा बैठ कर होता है। खड़े होकर पानी पीने से वो सीधा आपके पेट में खाने की नली की दीवार पर जाकर गिरता है। जिससे आपके पेट को नुकसान पहुचंता है और आपको कई तरह की बीमारियां होनी शुरु हो जाती है।
3. किडनी पर ज्यादा प्रैशर हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार जरुरत से ज्यादा पानी पीने से आपकी किडनी पर प्रैशर पड़ता है। इससे पानी बिना छने ही किडनी से निकल जाता है और किडनी धीरे-धीरे काम करने लगती है। किडनी के धीरे से काम करने पर आपको इससे संबंधित बीमारियां होनी शुरु हो जाती है।
4. जोड़ो में दर्द खड़े होकर पानी पीने से आपके जॉइंट्स में मौजूद केमिकल्स का बैलेंस बिगड़ जाता है। इससे कारण आपको कमर और जोड़ों में दर्द की समस्या हो जाती है। डॉक्टर का कहना है कि व्यक्ति की डाइट में एक बड़ी मात्रा पानी की होती है। इसलिए दिन में उतना ही पानी पाए जितनी आपको प्यास लगी हो।
5. दिल की बीमारियां एक्सपर्ट का मानना है कि ज्यादा पानी पाने से आपको दिल की बीमारियां होने का भी डर रहता है। इसके अलावा जरूरत से ज्यादा पानी पीने से हमारे शरीर में मौजूद वह रस काम करना बंद कर देते हैं, जो खाना पचाने में मदद करते है। इससे आपका खाना ठाक से पच नहीं पाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: