मुद्दा

राजनीति

मुद्दा परमाणु करार का, या फिर अमरनाथ का मुद्दा।
घाटी में घुसपैठ पाक की, बना हुआ स्थाई मुद्दा।।

कंधमाल में धर्म हनन का, छाया देश-विदेश में मुद्दा।
दुनिया में अब तो हावी है, आतंकी हमलों का मुद्दा।।

मुद्दा पानी की किल्लत का, और बाढ़ का भी है मुद्दा।
इसका मुद्दा उसका मुद्दा, सबका लूट-खसूट का मुद्दा।।

घर का मुद्दा देश का मुद्दा, गांव, नगर और शहर का मुद्दा।
किसी का भाग्यविधाता मुद्दा, किसी को धूल चटाता मुद्दा।।

एक ओर मंदिर का मुद्दा, और वही मस्जिद का मुद्दा।
मुद्दा का है देश ये भैया, हर नेता का इक-इक मुद्दा।।

मुद्दा नही है तो भी मुद्दा, मुद्दा है तो भी इक मुद्दा।
मुद्दे की है अजब कहानी, सबको नचा रहा है मुद्दा।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *