गीता पर कुछ प्रश्न

  • 2013-04-17 13:07:31.0
  • उगता भारत ब्यूरो

प्रश्नकर्ता आचार्य श्रीराम शर्मा
प्रथम प्रश्न :महाभारत के युद्ध में अटारह अक्षौहिणी सेना का परस्पर युद्ध हुआ। जो कि लगभग एक करोड से भी अधिक होती है । उसमें लाखों हाथी लाखों घोडे तथा लाखों पैदल योद्धा मौजूद थे । महाभारत स्त्री पर्व 26 के श्लोक 9 मे युधिष्टिर ने बताया है कि -उस युद्ध में एक अरब छ्यासट करोड बीस हजार योद्धा मारे गये थे ।
गीता के अध्याय एक में लिखा है कि - दोनों सेनाओं के बीच में युद्ध स्थल के मध्य अर्जुन का रथ श्रीकृष्ण जी ने ले जाकर खडा किया और वहां युद्ध स्थल में उपस्थित युद्ध करने के लिए तैयार सारी सेना को अर्जुन , श्रीकृष्ण तथा दुर्योधन ने देखा। यह युद्ध कुरुक्षेत्र के मैदान में हुआ था जो दिल्ली के पास हरियाणा में स्थित है

अब प्रश्न यह पैदा होता है कि एक करोड व एक अरब पुरुषों का वध जिस युद्ध क्षेत्र में लडते हुए हुआ हो उस युद्ध क्षेत्र का विस्तार क्या भारत के एक प्रान्त से कम होगा ? क्या इतनी विशाल हाथियों, घोडों, रथों व पैदलों की सारी सेना कुरुक्षेत्र में समा सकी होगी ? और क्या इतनी विशाल सेना के युद्ध के जब अन्तिम बाजे ( शंख) बज गये तो सारे सेनापति अपने दूरस्थ मोर्चों पर पूर्व से स्थित न होंगे ? तब अर्जुन ने उन सभी महारथियों को अपने सामने कबड्डी की टीम की तरह खडे हुए कैसे देखा होगा? जैसा कि गीता के अध्याय 1 में उल्लेख किया गया है ।

उगता भारत ब्यूरो ( 2469 )

उगता भारत Contributors help bring you the latest news around you.