यूएई के खिलाफ मिली जीत इन कारणों से बनी बेहद खास

  • 2016-03-05 11:00:09.0
  • अमन आर्य

नई दिल्ली। एशिया कप में अपने चौथे मुकाबले में भारत ने यूएई को 9 विकेट से करारी शिकस्त देकर लगातार चौथी जीत दर्ज की। यूं तो इस मैच में भारत शुरू से ही जीत का दावेदार था और भारतीय टीम फाइनल में पहले ही पहुंच चुकी थी, इसी वजह से धौनी ने टीम में कुछ बदलाव कर डाले। ये बदलाव भी व्यर्थ नहीं गए क्योंकि इन्हीं बदलावों ने इस मैच में भारतीय टीम को खुश होने के कुछ खास कारण दे दिए।यूएई के खिलाफ मिली जीत

लगभग पांच महीने बाद अपना पहला मैच खेल रहे भुवनेश्वर कुमार ने चार ओवर में केवल आठ रन देकर दो विकेट लिए। इस दौरान टी20 जैसे प्रारूप में उन्होंने दो मेडन ओवर भी किए। पिछले साल अक्टूबर में अपना आखिरी टी-20 खेलने वाले भुवनेश्वर ने शुरू से ही बल्लेबाजों को दबाव में रखा। भुवनेश्वर का पहला स्पैल काफी किफायती था। उन्होंने तीन ओवरों में 15 गेंद खाली डालीं और इस बीच स्वप्निल पाटिल को अपनी ही गेंद पर कैच करके भारत को पहली सफलता भी दिलाई। इसके बाद उन्होंने पारी के अंत में नवीद का विकेट भी झटका। इस मैच में 23 वर्षीय पवन नेगी को अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर का आगाज करने का मौका मिला। हाल में हुई आइपीएल नीलामी में पवन नेगी ने सबका ध्यान अपनी ओर तब खींचा था जब 30 लाख का आधार मूल्य होने के बावजूद दिल्ली डेयरडेविल्स ने 8.5 करोड़ में उनको खरीदा। यूएई के खिलाफ मैच में नेगी का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर नजर आया। उन्होंने अपने पहले ही ओवर में मोहम्मद उस्मान को आउट करके दिल जीता। यही नहीं, उन्होंने मैच में दो कैच भी लिए और एक रन आउट में भी शानदार योगदान दिया। टी20 विश्व कप से पहले नेगी का ये रूप देखकर धौनी काफी खुश होंगे, वो भी तब जब रवींद्र जडेजा इन दिनों कुछ खास नहीं कर रहे हैं।

भारत ने इस मैच में अंतरराष्ट्रीय टी20 क्रिकेट इतिहास की अपनी सबसे बड़ी जीत हासिल की। इसका श्रेय काफी हद तक भारतीय गेंदबाजों को जाता है। टीम इंडिया का बल्लेबाजी क्रम बेहद मजबूत है इसमें कोई शक नहीं लेकिन नेहरा, अश्विन और जडेजा को आराम देने के बावजूद भारतीय गेंदबाजों ने यूएई को 83 रन पर समेटा ये काबिलेतारीफ रहा। विरोधी टीम बेशक कमजोर थी लेकिन सभी भारतीय गेंदबाजों ने सफलता हासिल की जो प्रमाण है कि कोई बैठे, आराम करे या चोटिल हो लेकिन 'बैकअप' की कमी नहीं रहेगी। भुवनेश्वर ने जहां दो विकेट झटके, वहीं बुमराह, पांड्या, हरभजन, नेगी और युवराज सिंह ने एक-एक विकेट हासिल किया। कोई खाली हाथ नहीं रहा।

Tags:    यूएई   

अमन आर्य ( 358 )

उगता भारत Contributors help bring you the latest news around you.