पशुओं के लिए अपनी इंशानियत दिखाएँ और उन्हे बचाएं

  • 2016-04-10 03:49:38.0
  • अमन आर्य

एक ताजा जानकारी के अनुसार शेविंग करने के बाद कूड़ादान में ब्लेड के फेंकने के कारण हर साल हजारो पशूओ को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है
ध्यान दीजियेगा की कचरे में मुह मारते हुए जब ब्लेड जानवर के गले में फंसता है तो उसकी पीड़ा का हम अंदाजा भी नही लगा सकते वो बहोत जोर से छटपटाता है और फिर प्राण त्याग देता है
मूक जानवर के पास ब्लेड को गले से निकालने का कोई जरिया नही है
मेरे घर के पास कुछ ही दिनों पहले एक गौशाला में गाय ने प्राण त्याग दिए और बाद में पोस्टमार्टम में उसके पेट में ब्लेड चले जाने की पुष्टी हुयी
दोस्तों, पुराने ब्लेड को कचरे में डालने को बजाए घर पर कोई डिब्बे में डालना सुरु कर देवें

अमन आर्य ( 358 )

उगता भारत Contributors help bring you the latest news around you.