भारत समेत दुनिया भर में मनाया गया योग दिवस

  • 2017-06-21 03:38:23.0
  • अमन आर्य

भारत समेत दुनिया भर में मनाया गया योग दिवस

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आज दुनिया भर के कई देशों में योग का आयोजन किया। इस दौरान दुनिया के अलग हिस्सों में लोगों ने योग किया। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के पर योग गुरु बाबा रामदेव ने अहमदाबाद में योग किया। उनके साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी भी मौजूद थे।
दोनों नेताओं ने भी हजारों लोगों के साथ मिलकर योग किया। कार्यक्रम के दौरान वहां बारिश भी हुई, लेकिन लोगों की योग के प्रति रुचि में इससे कोई बाधा नहीं हुई और वे तेज बारिश में भी योग करते रहें। इस दौरान बाबा रामदेव ने दावा किया कि यहां पर सर्वाधिक लोग एक साथ योग कर रहे हैं, यह एक विश्व रिकॉर्ड है।
बाबा रामदेव ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनते ही जब सयुंक्त राष्ट्र में गए थे, तब उन्होंने योग दिवस का प्रस्ताव रखा था। वहीं उनके कारण आज पूरी दुनिया योग कर रही है, और तीसरा योग दिवस मना रही है।

आईएनएस विक्रमादित्य भी योग
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को भारत में एक त्योहार की तरह मनाया गया। जो जहां है वहीं योग किया। भारतीय नौसेना के जवानों ने भी बीच समुद्र में योग किया। जवानों ने आईएनएस विक्रमादित्य पर योग किया।

वर्ल्ड हेरिटेज साइट पर भी मनाया गया योग दिवस
दुनिया भर में जहां योग दिवस की धूम दिखी। वहीं पेरू में वर्ल्ड हेरिटेज साइट माचू पिच्चू पर भी योग किया गया। यहां माउंटेन पर चढ़ सैकड़ों लोगों ने योग किया।

अमेरिका में मना तीसरा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस
भारतीय समुदाय समेत बड़ी संख्या में लोगों ने तीसरा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए अमेरिका में भारतीय वाणिज्यदूत द्वारा आयोजित विशेष योग सत्रों में भाग लिया। वाणिज्यदूत रीवा गांगुली दास ने वाणिज्यदूत परिसरों में योग दिवस समारोहों के आयोजन का नेतृत्व किया और योग एवं आर्ट ऑफ लिविंग सत्रों में भाग लिया। दो घंटे चले योग एवं ध्यान शिविरों में भाग लेने आए लोगों को योग एवं ध्यान कराए जाने से पहले योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संदेश सुनाया गया।
आपको बता दें कि वाणिज्यदूतावास ने शहर के ऐतिहासिक एवं लोकप्रिय बैटरी पार्क में योग दिवस का मुख्य समारोह आयोजित करने की योजना बनाई थी जिसमें सैकड़ों लोगों के भाग लेने की उम्मीद थी लेकिन खराब मौसम के कारण समारोह रद्द करना पड़ा और इसे वाणिज्यदूतावास परिसर में आयोजित किया गया. वाणिज्यदूत में योग सत्रों में कई लोगों ने भाग लिया और सूर्य नमस्कार, प्राणायाम, एओएल सत्र और अन्य योग अभ्यास किया।