• पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-61
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-61

    • 2017-06-21 06:30:06.0

    स्वार्थभाव मिटे हमारा प्रेमपथ विस्तार होगतांक से आगे....प्रेम में सृजन है, और प्रेम में परमार्थभाव भ...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-60
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-60

    • 2017-06-20 10:30:21.0

    वायु-जल सर्वत्र हों शुभ गन्ध को धारण कियेगतांक से आगे....इसके लिए हमको सिमटती हरियाली को पुन: विस्ता...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-58
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-58

    • 2017-05-24 06:29:23.0

    वायु-जल सर्वत्र हों शुभ गन्ध को धारण कियेविश्व स्वास्थ्य संगठन इस समय छोटे-छोटे द्वीपीय देशों के अस्...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-57
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-57

    • 2017-05-13 10:00:29.0

    वायु-जल सर्वत्र हों शुभ गन्ध को धारण कियेपृथ्वी के समस्त प्राणधारियों को जीवन इस सूर्य से मिलता है। ...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-56
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-56

    • 2017-05-04 08:30:15.0

    लाभकारी हो हवन हर जीवधारी के लिएइस चिकित्सक की यह उद्घोषणा समझो कि हमारा स्वास्थ्य बीमा कर देना है। ...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-55
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-55

    • 2017-04-30 03:30:18.0

    लाभकारी हो हवन हर जीवधारी के लिएज्ञान पूर्वक का अर्थ है कि इसमें किसी प्रकार का अज्ञानान्धकार, पाखण्...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-54
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-54

    • 2017-04-27 06:30:10.0

    लाभकारी हो हवन हर जीवधारी के लिएअग्नि प्रज्ज्वलन के मंत्रों में 'ओ३म् भू: भुव: स्व:।' प्रथम बार में ...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-53
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-53

    • 2017-04-24 05:00:26.0

    लाभकारी हो हवन हर जीवधारी के लिएजब हम कहते हैं कि 'लाभकारी हो हवन हर जीवधारी के लिए' तो उस समय हवन क...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-52
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-52

    • 2017-04-23 04:00:45.0

    कामनाएं पूर्ण होवें यज्ञ से नरनार कीक्रोध, मद, मोह, लोभ इत्यादि के विषय में भी ऐसा ही मानना चाहिए। अ...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-51
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-51

    • 2017-04-17 08:00:26.0

    कामनाएं पूर्ण होवें यज्ञ से नरनार कीप्रसिद्घ कवि शिव मंगलसिंह 'सुमन' अपनी 'थीसिस' के लिए शांति निकेत...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-50
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-50

    • 2017-04-15 10:30:00.0

    कामनाएं पूर्ण होवें यज्ञ से नरनार कीअब हम पुन: अपने मूल मंत्र अर्थात ओ३म् त्वं नो अग्ने....पर आते है...

  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-49
  • पूजनीय प्रभो हमारे......भाग-49

    • 2017-03-29 09:30:45.0

    कामनाएं पूर्ण होवें यज्ञ से नरनार कीभोजन के समय की जाने वाली कामनाभोजन करते समय हमारी कामनाएं कैसी ह...