450 साल पहले कर दी थी मोदी युग की भविष्यवाणी

  • 2016-12-29 14:00:13.0
  • अजय आर्य

450 साल पहले कर दी थी मोदी युग की भविष्यवाणी

महान भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस उन ज्योतिषियों में से एक माने जाते हैं जिनकी भविष्यवाणियों ने दुनिया को उनका लोहा मानने पर मजबूर किया। नास्त्रेदमस का जन्म फ्रांस में हुआ था और वो ना सिर्फ भविष्यवक्ता बल्कि एक डॉक्टर और शिक्षक भी थे। वो प्लेग जैसी जटिल बीमारियों का इलाज करते थे। उन्होंने अपनी कविताओ के माध्यम से भविष्य में होने वाली घटनाओं की भविष्यवाणी की जो सत्य हुई।
स्रोत: फ्रांस में 14 दिसंबर, 1503 को जन्मे नास्त्रेदमस ने अपनी पुस्तक में 12 सेंचुरिज यानी बारह सौ चतुष्पदियां लिखी हैं। उनमें से अब मात्र 955 अस्तित्व में हैं। इनमें से लगभग 3 हजार भविष्य कथनों का वर्णन है। गत 44 वर्षों में उनकी 800 भविष्यवाणियां सत्य की कसौटी पर सही उतरी हैं।
सेंचुरीज में सन् 3797 तक के समयकाल की भविष्यवाणियां की गई हैं। फ्रांस के मेस बाबहम ने 4 मई 1555 को फ्रांसीसी भाषा में नास्त्रेदमस की पुस्तक का प्रकाशन किया था। पुस्तक की प्रकाशन पूर्व इतनी ख्याति हो चुकी थी कि प्रकाशन दिनांक को लंबी कतारें उसके खरीददारों की लगी थीं और पुस्तक का प्रथम संस्करण एक ही दिन में समाप्त हो गया था।

1. राजीव गांधी की रोंगटे खड़े कर देने वाली मौत
'राजाज्ञा से एक उत्तम वायु चालक अपना पेशा छोडक़र देश के सर्वोच्च पद पर आसीन हो जाएगा। सात वर्षों तक ख्याति प्राप्त करने के पश्चात उसका ऐसा अंत होगा, जो रोंगटे खड़े कर देगा।'
संजय गांधी की मृत्यु के पश्चात राजीव गांधी अपनी माता इंदिराजी की सहायता करने हेतु राजनीति में आए। सन् 1984 में इंदिराजी की हत्या के पश्चात वे कांग्रेस के नेता बने, फिर प्रधानमंत्री। 7 वर्ष पश्चात सन् 1991 में दिल दहला देने वाली हत्या हुई थी।

2. इंदिरा गाँधी की हत्या
'निष्कासित स्त्री फिर सत्तारूढ़ होगी। उसके बैरी उसके विरुद्ध षड्यं?त्र करेंगे। तीन वर्षों के अपने यादगार कार्यकाल के बाद सत्तर की आयु के लगभग उसकी मृत्यु होगी।'
सन् 1977 के आम चुनाव में इंदिराजी की पराजय हुई थी और जनता पार्टी की सरकार बनी थी। किंतु 1980 में वे वापस सत्ता में आईं और प्रधानमंत्री बनीं। जब उनकी हत्या कर दी गई, उस समय उनकी आयु 67 वर्ष की थी

3. नरेंद्र मोदी बदल देंगे भारत की तस्वीर
नास्त्रेदमस ने नरेंद्र मोदी के बारे में भविष्यवाणी करते हुए कहा था कि भारत में एक शक्तिशाली व्यक्ति का युग आयेगा और देश महाशक्ति बनकर उभरेगा यही नहीं भारत का पूरा वजूद बदल जायेगा।

4. वल्र्ड ट्रेड सेंटर पर हमला
वल्र्ड ट्रेड सेंटर पर हमला 9/11 वल्र्ड ट्रेड सेंटर पर हमले की भविष्वाणी नास्त्रेदमस ने बहुत पहले की थी। उन्होंने कहा था कि न्यूयॉर्क स्थित डब्ल्यूडीसी पर संकट के बादल आयेंगे जोकि सत्य साबित हुआ।

5. तीसरा विश्व युद्ध होगा आतंकवाद के खात्मे के लिए नास्त्रेदमस ने भविष्यवाणी की है कि तीसरे विश्वयुद्ध के लिए जमीन 2015-16 तक तैयार होने लगेगी। विश्व की कट्टर ताकतों के खिलाफ जिसमें अमेरिका और रूस एक साथ आ जायेगे वो दुनिया से आतंकवाद को खत्म करने के लिए लड़ाई लड़ेगे।

6. अमेरिका सहित कई देशों के लिए बुरा समय नास्त्रेदमस के अनुसार 2015 का अंत अमेरिका के लिए काफी अहम होगा। इस साल अमेरिका को चीन, रूस और ईरान से काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगो. यही नहीं इस साल अमेरिका में भयावह तूफान आने की संभावना है जोकि अमेरिका के बड़े हिस्से को तबाह कर देगा।

7. यूरोप में आयेगा भारी आर्थिक संकट
नास्त्रेदमस ने यूरोप में एक बड़े आर्थिक संकट की भी भविष्यवाणी की। उन्होंने कहा था कि कई यूरोपीय देश आर्थिक मंदी की चपेट में आयेंगे।

8. हिटलर के बारे में भविष्यवाणी नास्त्रेदमस ने दूसरे विश्व युद्ध के भी संकेत बहुत पहले दे दिये थे। एडोल्फ हिटलर के बारे में लिखते हुए नास्त्रेदमस ने बीस्ट शब्द का इस्तेमाल किया था, जिसका अर्थ जानवर होता है।
इस शब्द को हिटलर से जोड़ा जाता है। दूसरे विश्वयुद्ध की भविष्यवाणी नास्त्रेदमस दूसरे विश्वयुद्ध की भविष्यवाणी करते हुए कहा था कि एक बीस्ट की सनक के चलते दुनिया सबसे भयावह युद्ध का सामना करेगी। उन्होंने कहा था कि इस युद्ध में हजारों निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतारा जाएगा।

9. लंदन में लगी भीषण आग नास्त्रेदमस ने लंदन में भी आग लगने की भविष्यवाणी की थी। उनकी भविष्यवाणी सच हुई और 1966 में पुडिंग लेन स्थित थॉमस फैरिनर में लगी आग ने सिर्फ 3 दिन पूरे शहर को जलाकर राख कर दिया था।
स्रोत: सन् 1789 की राज्य क्रांति का संकेत करते हुए सेंचुरी 1, चतुष्दी 14 में बताया गया है- 'आम व्यक्तियों द्वारा राजकुमारी एवं राजपरिवार के सदस्य बंदी बनाए जाएंगे किंतु बंदी बनाने वाले मूर्खों के शिरोच्छेद किए जाएंगे और उसके पश्चात विद्रोही राजपरिवार एवं अभिजात्य लोगों को एक-एक कर मारेंगे।'
'अर्थव्यवथा बिगड़ेगी, जनता राजा का विरोध करेगी। शांति स्थापना के प्रयत्न होंगे। पवित्र कानूनों की समाप्ति होगी, पेरिस का यह संकटपूर्ण दौर अकल्पित होगा।'

10. नेपोलियन के साथ धोखा
एक फ्रांसीसी, जिसने साम्राज्य युद्ध करके जीता है, अपने बहनोई द्वारा धोखा खाएगा। 'फ्रांस में ऐसा शासक होगा, जिसका नाम पूर्ववर्ती शासकों से अलग होगा। उसके मारे सभी थर्राएंगे। विदेशी महिला की ओर वह मोहित होगा।'

अजय आर्य ( 40 )

उगता भारत Contributors help bring you the latest news around you.